ट्रेन में गपर-गपर खाना पड़ेगा महंगा, क्‍योंकि ट्रेन में चाय, नाश्‍ता के लिए अब लगेगा ज्यादा पैसा


ट्रेन में गपर-गपर खाना पड़ेगा महंगा, क्‍योंकि ट्रेन में चाय, नाश्‍ता के लिए अब लगेगा ज्यादा पैसा

भारतीय रेलवे में सफर करने वाले शख्स हो जाए सावधान! क्यों कि इंडियन रेलवे से सफर करना अब काफी महंगा होने वाल है. खासकर उन लोगो के लिए जेब पर इसका असर पड़ेगा जो लोगो रेलवे में सफर के दौरान गपर-गपर खातें पीते रहते हैं. क्‍योंकि ट्रेन में चाय, नाश्‍ता और खाने के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे. रेलवे बोर्ड ने राजधानी, शताब्दी और दुरंतो में चाय, नाश्ता और भोजन महंगा करने का सर्कुलर जारी कर दिया है. नए रेट मेल, एक्‍सप्रेस और दूसरी ट्रेनों में भी लागू होंगे. नया रेट चार्ज 4 महीने बाद यानी फरवरी 2020 से लागू होगा.

 

BREAKING NEWS:  भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुख्यालय पर किया प्रचंड प्रदर्शन

 

1- सुबह की चाय रेट..

- फर्स्ट क्लास AC और एग्जेक्यूटिव चेयर कार: 35 रुपये
- सेकेंड क्लास AC/3rd AC/चेयर कार: 20 रुपये

- दुरंतो स्लीपर ट्रेन में: 15 रुपये

 

2- सुबह की नाश्ता का रेट..

-  फर्स्ट क्लास AC और एग्जेक्यूटिव चेयर कार: 140 रुपये
- सेकेंड क्लास AC/3rd AC/चेयर कार: 105रुपये
- दुरंतो स्लीपर ट्रेन में: 65 रुपये\\

 

3- दोपहर लंच/डिनर का रेट..
- फर्स्ट क्लास AC और एग्जेक्यूटिव चेयर कार: 245 रुपये
- सेकेंड क्लास AC/3rd AC/चेयर कार: 185 रुपये
- दुरंतो स्लीपर ट्रेन में: 120 रुपये

 

4- शाम की चाय का रेट..
- फर्स्ट क्लास AC और एग्जेक्यूटिव चेयर कार: 140 रुपये
- सेकेंड क्लास AC/3rd AC/चेयर कार: 90 रुपये
- दुरंतो स्लीपर ट्रेन में: 50 रुपये



5- भारतीय रेलवे ने चिकन करी का नया ऑप्शन भी मेल और एक्सप्रेस ट्रेन में उपलब्ध कराया जाएगा.


6- मेल/एक्सप्रेस ट्रेन में खाने की नई रेट लिस्ट

- ब्रेकफास्ट (वेजिटेरियन): 40 रुपये
- ब्रेकफास्ट (नॉन वेजिटेरियन): 50 रुपये
- सैंटडर्ड मील  (वेजिटेरियन): 80 रुपये
- सैंटडर्ड मील  (नॉन-वेजिटेरियन एग करी के साथ): 90 रुपये
- सैंडर्ड मील  (नॉन-वेजिटेरियन चिकन करी के साथ): 130 रुपये
- वेज बिरयानी: 80 रुपये

- एग बिरयानी: 90 रुपये
- चिकन बिरयानी: 110 रुपये

 

HINDI SAMAACHAR: सिर्फ पांच मिनट में बच्चों के लिए बनाएं टेस्टी सैंडविच

 

आपको बता दें कि टिकटिंग सिस्टम में नए मेन्यू और शुल्क 15 दिनों में अपडेट हो जाएंगे जबकि 120 दिनों (चार महीने) के बाद इसे लागू कर दिया जाएगा. बदली गई दरें न केवल प्रीमियम ट्रेनों के यात्रियों को बल्कि आम लोगों को भी प्रभावित करेंगी. रेग्युलर मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में ठीक-ठाक शाकाहारी भोजन 80 रुपये का मिलेगा जिसकी मौजूदा कीमत 50 रुपये है.  इंडियन रेलवे कैटरिंग और टूरिज्म कॉर्पोरेशन (IRCTC) रेल यात्रियों को एग बिरयानी 90 रुपये जबकि चिकन बिरयानी 110 रुपये में मुहैया कराएगा. रेग्युलर ट्रेनों में 130 रुपये की कीमत पर चिकन करी भी परोसी जाएगी. नई रेट जानकर आप को चकराने की जरुरत नहीं है, इस लिए ट्रेन में सफर के दौरान खाने पीने का बंदोबस्त खुद कर के चले इससे आप के जेब पर कम पड़ेगा. 

 

breaking news,indian breaking news,gst on outdoor catering services,breaking news today,ac class train charges,outdoor catering,train ticket,garib rath train charges,new charges for train passengers,new charges for train passengers in garib rath,how to book train ticket free,train new charges,how to book train ticket in hindi

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

बेबाक पत्रकार रवीश कुमार को मिला ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार


बेबाक पत्रकार रवीश कुमार को मिला ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार

हिंदी पत्रकारिता जगत में अपनी अलग पहचान बना चुके NDTV के रवीश कुमार को बेस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया है. ये अवार्ड 2019 के ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इस अवार्ड को ‘रैमॉन मैगसेसे’ को एशिया का नोबेल पुरस्कार के नाम से जाना जाता है. यह पुरस्कार फिलीपीन्स के भूतपूर्व राष्ट्रपति रैमॉन मैगसेसे की याद में दिया जाता है.

आपको बता दें कि, सम्मान के लिए पुरस्कार संस्था ने ट्वीट कर बताया कि रवीश कुमार को यह सम्मान “बेआवाजों की आवाज बनने के लिए दिया गया है.” रवीश कुमार का कार्यक्रम ‘प्राइम टाइम’ ‘आम लोगों की वास्तविक, अनकही समस्याओं को उठाता है.” साथ ही प्रशस्ति पत्र में कहा गया की, ‘अगर आप लोगों की अवाज बन गए हैं, तो आप पत्रकार हैं.’ 

आपको बता दें कि, रवीश कुमार ऐसे छठे पत्रकार हैं जिनको यह पुरस्कार मिला है. इससे पहले अमिताभ चौधरी (1961), बीजी वर्गीज (1975), अरुण शौरी (1982), आरके लक्ष्मण (1984), पी. साईंनाथ (2007) को यह सम्मान मिल चुका है.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

28,000 और जवानों को कश्मीर में किया गया तैनात, हाई अलर्ट पर फोर्सेज


28,000 और जवानों को कश्मीर में किया गया तैनात, हाई अलर्ट पर फोर्सेज

हाल ही में जम्मू कश्मीर में 10,000 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती के एक हफ्ते के भीतर बड़ा कदम उठाते हुए मोदी सरकार ने कश्मीर 28,000 और अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती कर दिया है. इसके साथ ही सरकार ने सेना और वायुसेना को ऑपरेशनल अलर्ट पर रहने को कहा है.

जिसके चलते स्थानीय नागरिकों में पहचल शुरु हो गई है और लोगों ने तेजी से राशन पानी जुटाना शुरु कर दिया है. इस बीच राज्य के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने सरकार के इस अप्रत्याशित कदम पर ट्वीट कर कहा कि “ऐसी कौन सी वर्तमान परिस्थिति है जिसके चलते केंद्र सरकार ने सेना और वायुसेना को ऑपरेशनल अलर्ट पर ऱखा हुआ है, निश्चित तौर पर यह मामला 35ए अथवा परिसीमन से जुड़ा नहीं हैं. अगर सच में इस तरह का कोई अलर्ट जारी किया गया है तो यह बिल्कुल अलग चीज है.”

खास बात यह है कि इन सभी सुरक्षाबलों की राज्य के अति संवेदनशील माने जाने वाले इलाकों में भारी मात्रा में तैनाती की गई हैं. इसके अलावा राज्य के सभी जगहों पर अर्धसैनिक बलों ने कब्जा कर लिया है और प्रदेश पुलिस सिर्फ प्रतीकात्मक बन कर रह गई है.

घाटी में इतनी अधिक मात्रा में सुरक्षाबलों की तैनाती को लेकर हमारे सूत्रों का कहना है कि सरकार 370 और 35ए को लेकर कुछ बड़ा करने की तैयारी कर रही है. हालांकि सरकार का कहना है कि सीमापार से आतंकवादी कश्मीर में बड़ा हमला करने की फिराक में हैं जिसके मद्देनजर किया है.

लेकिन राजनीति के जानकारों का मानना है कि सरकार यह सब ध्यान भटकाने के लिए कह रही है जबकि असल में सरकार कुछ अलग और बड़ा करने की तैयारी कर रही है.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×