चुनौतियों को मात देकर निःस्वार्थ भाव से कोरोना के खिलाफ लड़ रहे लड़ाई


चुनौतियों को मात देकर निःस्वार्थ भाव से कोरोना के खिलाफ लड़ रहे लड़ाई

-पारामेडिकल संस्थान में बेपरवाह हो दे रहें हैं सेवा 

- आयुष चिकित्सक बने हैं असली कोरोना योद्धा

 

लखीसराय /23 मई: 

कोरोना के खिलाफ जंग आसान नहीं है. लेकिन स्वास्थ्य विभाग के स्वास्थ्य कर्मी इन विषय परिस्थितियों में भी निःस्वार्थ भाव से अपनी सेवा देकर चुनौतियों को मात देते दिख रहे हैं. आम लोग कोरोना प्रसार से बचाव के लिए घर से बाहर नहीं निकल रहें हैं. वहीं जिले के आयुष चिकित्सक डॉ राजदेव पासवान और डॉ विनोद कुमार पिछले कई दिनों से आईसोलेशन वार्ड में आये लोगों की सेवा करने में निरंतर जुटे हैं. वे कई दिनों से अपने घर भी नहीं जा सके हैं. वे सिर्फ इस उद्देश्य से लोगों की सेवा करने में जुटे हैं कि किसी भी तरह लोगों को इस संक्रमण से मुक्ति दिलाने में सहयोग कर सकें. 

 

बेफिक्र होकर लोगों को जागरूक करने में जुटे हैं: 

जिले के आयुष चिकित्सक डॉ राजदेव पासवान और डॉ विनोद कुमार जो सुरजगढ़ा एवं कजरा पीएचसी में कार्यरत हैं. लेकिन जिले में कोरोना प्रसार को देखते हुए उन्हें जिले के तेतरहट थाना अंतर्गत नोनगढ़ गाँव के पारामेडिकल संस्थान में निर्मित आईसोलेशन वार्ड में उनकी नियुक्ति की गयी है. आईसोलेशन वार्ड में नियुक्ति के कारण इनके ऊपर लोगों की देखरेख करने की भी जिम्मेदारी है. इसलिए ये कई दिनों से अपने घर नहीं जा सके हैं. यहाँ तक कि ये वहीँ अपना खाना खुद बनाते हैं एवं लोगों की सेवा में दिन-रात जुटे हैं. 

डॉ राजदेव पासवान बताते हैं एक चिकित्सक होने के नाते लोगों को इस संक्रमण काल में सेवा प्रदान करना हमारी जिम्मेदारी है. यह सत्य है कि ऐसे दौर में निरंतर सेवा देना आसान नहीं है. लेकिन यही चुनौतियाँ उन्हें बिना डरे एवं बिना थके सेवा प्रदान करने के लिए प्रेरित भी करता है. 

वहीं डॉ विनोद कुमार कहते हैं, वे कई दिनों से घर भी नहीं जा सके हैं. लेकिन वर्तमान परिस्थिति में यह उतना महत्वपूर्ण भी नहीं है. सबसे अधिक जरुरी यह है कि उनके प्रयास से आईसोलेशन वार्ड में भर्ती लोगों को कोरोना संक्रमण से निदान प्राप्त हो सके. उन्होंने बताया वे लोगों को हाथों की नियमित धुलाई, बदलते मौसम में खानपान पर विशेष ध्यान, खांसते या छींकते समय मुंह व नाक पर कपड़ा रखने, सामाजिक दूरी के तहत एक मीटर दूरी का पालन करने, मास्क का इस्तेमाल करने,  आईसोलेशन में आए में रहने आदि से संबंधित जानकारी दे रहें हैं. 

 

विपरीत हालातों में कार्य करने वाले प्रशंसा के हक़दार: 

कोरोना संक्रमण काल में स्वास्थ्य महकमे के चिकित्सकों एवं स्वास्थ्य कर्मियों के योगदान को नजरंदाज नहीं किया जा सकता है. आयुष चिकित्सक डॉ राजदेव पासवान और डॉ विनोद कुमार के जैसे कई और चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मी हैं जो निरंतर लोगों को सेवा देने में जुटे हैं. ऐसे में इनके योगदान की जितनी भी सराहना की जाए वह कम ही होगी. जरूरत इस बात की भी है कि आम लोग भी आगे बढ़कर इनके निःस्वार्थ सेवा भाव में सहयोग करें ताकि इस जंग को और भी आसान बनाया जा सके. साथ ही इन कोरोना योद्धाओं का मनोबल भी बढ़ सके.     

 

जिले को कोरोना मुक्त बनाने की हो रही संभव प्रयास : 

जिला सिविलसर्जन डॉ आत्मानंद राय ने बताया जिले को कोरोना मुक्त करने की दिशा में जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य महकमा हर संभव प्रयास कर रहा है. डॉ राजदेव पासवान और डॉ विनोद कुमार जैसे चिकित्सकों के सहयोग से कोरोना के खिलाफ़ मुहिम में सहयोग मिल रहा है. अभी का दौर सिर्फ संक्रमण का दौर नहीं है बल्कि आस-पास के लोगों की हर संभव सेवा करने का एक अवसर भी है. उन्होंने बताया ऐसे संकटकाल में जरुरी है कि लोग लॉकडाउन के नियमों का अनुपालन करें. चिकित्सकों, पुलिसकर्मी एवं ऐसे वे तमाम लोग जो इस कोरोना के खिलाफ युद्ध में सहयोग कर रहे हैं उनका भी सहयोग करें ताकि जिले के साथ राज्य को कोरोना मुक्त करने में आसानी हो सके

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

बालों का झड़ना और डैंड्रफ के घरेलु उपाय


बालों का झड़ना और डैंड्रफ के घरेलु उपाय

दोस्तों आज जो नुस्खा मैं आपके लिए लेकर आया हूँ वो है बालों का झड़ना, बालों में डैंड्रफ, रूखापन और असमय सफ़ेद होने जैसे समस्या के उपाय के सम्बन्ध में।

सबसे पहले हमें चाहिए : 

  • 2 चम्मच दही
  • 1 चम्मच निम्बू का रस
  • 1 मुठ्ठी करी पत्ता
  • 1 मुठ्ठी भृंगराज के पत्ते

अब क्या करें की करी पत्ता और भृंग राज के पत्ते को कूट पिस कर बारीक़ पाउडर बना लें फिर इसमें दही और निम्बू का रस मिलाकर पेस्ट बना लें।

अब आप इसे अपने बालों में अच्छे तरह से लगा कर 25 – 30 मिनट छोड़ दें।

 

 

फिर सैम्पू से बाल धो कर नाहा लें। इस विधि को वीक में एक बार लगातार करने से आपके बालों की सभी समस्याएँ जैसे बालों में रुसी, डैंड्रफ, बालों का रूखापन, बाल झाड़ना, असमय सफ़ेद होना आदि ख़त्म हो जाते हैं।

 

दोस्तों ये घरेलु उपाय है जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है इसलिए आप इसे बिना किसी संकोच के इस्तेमाल कर सकते हैं। क्योंकि पुराने ज़माने के लोग इन्हीं विधियों का यूज करते थे और उनका बाल 50 साल तक सफ़ेद नहीं होता था। दोस्तों उपरोक्त औषधियों में पाए जाने वाले तत्व से हमारे बाल न केवल मजबूत होते हैं बल्कि बालों में चमक सायनिंग भी आता है।

 

तो दोस्तों ये था हमारा आज का बालों से सम्बंधित स्पेशल रेमेडी और ये उपाय आपको कैसा लगा आप हमें कमेन्ट करके जरुर बताएं और अगर अच्छा लगा हो तो ज्यादा से ज्यादा लाइक करें शेयर करें और हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर लें व घंटी को दबा कर आल पर क्लिक कर दें।

 

दोस्तों मैं हमेशा के तरह यही चाहता हूँ की आप सभी स्वस्थ्य रहें सुखी रहें और आपको डॉक्टर के पास न जाना परे इसी शुभकामनाओं के साथ नमस्कार धन्यवाद।

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

जाने खड़े होकर खाना खाने के नुकसान | Healthy Life Tips


जाने खड़े होकर खाना खाने के नुकसान | Healthy Life Tips

घरेलु नुस्खा चैनल में आप सभी का एकबार फिर से स्वागत है. दोस्तों आज जिस टॉपिक पर मैं बात करने वाला हूँ वो है खड़े हो कर खाना खाने के नुक्सान। जी हाँ दोस्तों आज कल ये चलन हो गया है. वेस्टर्न लिफ़ स्टाइल के कारन लोग पार्टी में खड़े होकर खाना खाना स्टैण्डर्ड समझते हैं. और नीचे ज़मीं पर बैठ कर खाना खाने वालों को लोग गवार समझते हैं.

 

लेकिन अब ये एक रिसर्च में ये साफ़ हो गया है और वैज्ञानिकों ने भी ये मान लिया है के खड़े होकर खाना खाने से बहुत सारे नुक्सान होते हैं. खड़े होकर खाने से आपका पाचन तंत्र ख़राब होने लगता है और इतना ही नहीं, आपको खाने में स्वाद भी नहीं मिलता है. और जब आपको खाने में स्वाद नहीं लगेगा तो आपका खाने से भी मन उठता चला जायेगा.

 

जिससे आपके लिवर पर भी असर हो सकता है और आपका हॉर्मोन सिस्टम भी कमजोर हो सकता है, साथ ही आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो सकता है. जी हाँ दोस्तों, जैसे हमारे पूर्वज पालथी मार कर खाना खाया करते थे, अगर आप भी वही तरीका अपनाएं तो न केवल आपके शरीर में खाना लगता है बल्कि आपको भोजन करने में भी रूचि बनी रहती है. रुखा सूखा खाना भीं आपको स्वादिष्ट लगने लगता है.

 

पूरी रिसर्च पढ़ें: जाने खड़े होकर खाना खाने के नुकसान

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×