स्कूलों में बच्चों के हाथों में किताब की जगह फावड़ा


स्कूलों में बच्चों के हाथों में किताब की जगह फावड़ा

यूपी के बांगरमऊ (उन्नाव) के जगतपुर प्राथमिक विद्यालय से परेशान करने वाली तस्वीर सामने आई है। शिक्षक के आदेश पर यहां बच्चे क्लास में पढ़ने के बजाय स्कूल परिसर में जमा मिट्टी को फावड़े से खोदकर गड्ढा भरने का काम करते हैं। द्वारा लगा दिए गए।

 

 

अब बच्चे करते भी क्या, मैडम का आदेश था तो काम तो करना ही था। मैडम की तानाशाही ये थी कि वीडियो बना रहे युवक को धमकाने से भी पीछे नहीं रही। वहीं, मामला मीडिया में आने के बाद बीएसए ने जांच टीम गठित की है और शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है ।

 

 

बता दें कि उन्नाव के बांगरमऊ ब्लॉक के  प्राथमिक विद्यालय जगतपुर में सर्व शिक्षा अभियान का माखौल उड़ाया जा रहा है। यहां स्कूल के बच्चों को क्लास में पढ़ाई के बजाए, मजदूरी कराने की तस्वीर सामने आई हैं। जिसे गांव के एक युवक ने कैमरे में कैद कर प्रधान शिक्षिका की करतूत को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है ।

 

 

सोशल मीडिया पर वायरल होते ही विभागीय अधिकारी प्रधान शिक्षिका के बचाव में उतर आए । वीडियो में साफ तौर पर बच्चे फावड़े से खुदाई कर जमा मिट्टी को समतल करने में जुटे दिखाई दे रहे हैं । हालांकि बांगरमऊ खंड शिक्षा अधिकारी राजेश कटियार का दावा है की किचन गार्डन बनाने में बच्चे अपना सहयोग कर रहे थे ।

 

 

वहीं, यदि बात करें फावड़े से मिट्टी खुदाई कि तो उस पर प्रधान शिक्षिका कविता कटियार को चेतावनी दी गई है। सवाल यह उठता है कि जो प्रधान शिक्षिका अपनी मौजूदगी में बच्चों से फावड़े से मिट्टी खुदवा रही थी,  तो क्या उसकी जवाबदेही केवल चेतावनी भर से बनती है ।

 

 

जिससे विभागीय अधिकारियों की जिम्मेदारी की सच का पता आसानी से लगाया जा सकता है। फिलहाल, शिक्षा अधिकारी डॉ. प्रदीप पांडे का कहना है कि मामले की जांच किया जा रहा है। जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। 

 

 

Strict action, departmental officers, address, education officer, responsibility, ease, strict action, guilty, soil digging, strict against, Bangarmau block, viral, investigation team constituted, Bangarmau of UP, teacher orders, shovels deposited soil, primary school Sarva Shiksha Abhiyan in Jagatpur


 
और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

इस मंत्री ने गलती से ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, हुए ट्रोल


इस मंत्री ने गलती से ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, हुए ट्रोल

आज सुबह से सोशल मीडिया पर एक खबर को काफी तेजी से वायरल किया जा रहा है. दरअसल, कर्नाटक में BS येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली BJP सरकार के मंत्रियों ने बीते मंगलवार को पद और गोपनीयता की शपथ ली. इस दौरान जब BJP नेता और विधायक मधु स्वामी पद और गोपनीयता की शपथ ले रहे थे, तभी उन्होंने गलती से बतौर मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली. 

 

 

बता दें कि, मधु स्वामी जब शपथ ले रहे थे तो उन्हें मंत्री बोलना था, लेकिन जुबान फिसलने के चलते वह मुख्यमंत्री बोल पड़े. अब इस खबर को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया जा रहा है. खास बात ये है कि इस दौरान CM येदियुरप्पा भी मौके पर मौजूद थे और मधु स्वामी की इस गलती पर मुस्कुरा दिए. इतना ही नहीं येदियुरप्पा ने मधु स्वामी को बाद में गले भी लगाया.

 

गौरतलब है कि, बीते मंगलवार को हुए शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल वजुभाई वाला ने 17 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलायी. जिन विधायकों को मंत्री पद से नवाजा गया है, उनमें बी. श्रीरमुलु, सीटी रवि, पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केएस ईश्वरप्पा और पूर्व सीएम जगदीश शेट्टार का नाम शामिल है. बता दें कि, येदियुरप्पा के 26 जुलाई को CM बनने के बाद उनके मंत्रिमंडल का यह पहला विस्तार है. उन्होंने 29 जुलाई को विधानसभा में अपनी सरकार का बहुमत साबित किया था. 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

22 वर्ष पहले दफ़न हुए व्यक्ति का नहीं गला शरीर, मिला ज्यों का त्यों


22 वर्ष पहले दफ़न हुए व्यक्ति का नहीं गला शरीर, मिला ज्यों का त्यों

उतर-प्रदेश के बांदा जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, कई लोग इसे देखकर खुदा का करिश्मा मान रहें हैं तो वहीं कई लोग नेक इंसाल का दर्जा दे रहें हैं. बताया जा रहा है कि, यहां 22 वर्ष पहले कब्र मे दफनाए गए एक शख्स का जनाजा ज्यों का त्यों पड़ा मिला है.

 

ये मामला तब सामने आया जब मूसलाधार बारिश के चलते कब्रिस्तान में मिट्टी कटने से एक कब्र धंस गई और उसमें  22 वर्ष पहले दफन एक शख्स का कफन में लिपटा जनाजा़ दिखने लगा. यहां देखते ही देखते मौके पर काफी लोगों पहुंच गए. जब कफन में लिपटी लाश को निकाला गया तो वहां मौजूद सैकड़ों लोग देखकर दंग रह गए. क्योंकि 22 सालों बाद भी लाश ज्यों कि त्यों निकली.

 

फ़िल्म 'द जोया फैक्टर' और अभिनेत्री सोनम कपूर से जुड़ी रोचक बात

 

दरअसल, ये मामला उतर-प्रदेश के जिले बांदा के बबेरू कस्बे के अतर्रा रोड स्थित घसिला तालाब के कब्रिस्तान की है. यहां मूसलाधार बारिश से कई कब्रों की मिट्टी बह गई और एक कब्र में दफन जनाजा़ बाहर दिखने लगा. इसके बाद लोगों ने कब्रिस्तान कमेटी को इसकी जानकारी दी. कब्रिस्तान कमेटी के सदस्‍यों द्वारा जब कब्र की धंसी हुई मिट्टी को हटाकर देखा गया, तो उसमें दफनाया गया जनाजा ज्यों का त्यों पड़ा मिला.

 

गौरतलब है कि, इस कब्र में 22 वर्ष पहले 55 वर्षीय पेशे से नाई नसीर अहमद नाम के शख्स को दफनाया गया था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, नसीर अहमद पुत्र अलाउद्दीन निवासी कोर्रही, थाना बिसंडा बबेरू में नाई की दुकान थी. उन्‍हें लगभग 22 वर्ष पहले दफन किया गया था. जबकी दूसरी तरफ मृतक नसीर के एक रिश्तेदार बताते हैं कि उनका कोई बेटा नहीं था. 

 

22 वर्ष पहले उनका निधन हुआ था, जिसके बाद उनलोगों ने ही उनके शव को दफनाया था. लेकिन, आज उनका जनाजा मिटटी धंसने की वजह से बाहर निकल आया. न शव ख़राब हुई थी और न ही कफ़न पर कोई दाग लगा था. हालंकी, बाद में स्थानीय मौलानाओं की मौजूदगी में शव को कल देर रात उसे दूसरी कब्र में दोबारा से दफन किया गया.

 

पुराने से पुराने पिंपल्स और झाइयां के दाग को जड़ से मिटाने का नुश्खा

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×