'द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावती' की वास्तविक कार्यवाही देखने वाले लोग इस सीक्वेंस के बनेेंगे गवाह


'द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावती' की वास्तविक कार्यवाही देखने वाले लोग इस सीक्वेंस के बनेेंगे गवाह

"द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावती" एक ऐसा शो है जिसके जरिये नानावटी केस के बारे में सबसे ईमानदार वर्जन पेश करने का वादा किया है। निर्माताओं ने केस की कार्यवाही से जुड़ी सभी घटनाओं की प्रामाणिकता बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयत्न किया है। यह केस मानव जाति के इतिहास में सबसे क्रूर मामलों में से एक था, कुछ लोग जो इस मामले के दौरान उपस्थित थे, वह अभी भी इसकी कार्यवाही और निर्णय से हैरत में है।

 

थोड़ी खोजबीन के बाद, उन्हें पता चला कि यह शो मुंबई में मालाड, फिल्म सिटी और कोलाबा इन तीन अलग-अलग स्थानों पर शूट किया जा रहा है। ऐसे में, इन लोगों ने उन स्थानों से संपर्क किया जहां शो की शूटिंग की जा रही थी और उन्हें ऐसा करने की अनुमति दी गई थी। यहाँ पहुंचने पर वे देखकर आश्चर्यचकित थे कि सीरीज़ के निर्माता वास्तविक मामले को कितनी बारीकी से दोहराने में सक्षम रहे है।

 

यह भी पढ़ें: 'द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावती' सीरीज में किरदारों के असली नामों का किया गया है इस्तेमाल

 

 

इतना ही नहीं, उन्होंने शो के लिए की गई रिसर्च के लिए भी टीम की प्रशंसा की और साथ ही पूरी शूटिंग प्रक्रिया देखने के लिए रिक्वेस्ट की, जिसके टीम हँसी खुशी के साथ राज़ी हो गयी थी। शो "द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावटी" की प्रामाणिकता ने इस विषय पर बने अन्य शो / फिल्मों की तुलना में इसे अनूठा बना दिया है। नजीतन, फैंस बेहद उत्साहित हैं और शो का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

 

शशांत शाह द्वारा निर्देशित, 10-एपिसोड श्रृंखला 1959 की वास्तविक जीवन की घटना पर आधारित है जहाँ एक दमदार पारसी नौसेना अधिकारी ने अपने रिवाल्वर की तीन गोलियों से एक समृद्ध सिंधी व्यापारी को छलनी कर दिया था जिसके बाद उस पारसी नौसेना अधिकारी ने पुलिस के पास स्वयं अपने क्रूर अपराध को स्वीकार भी कर लिया था।

 

छह दशकों के बावजूद, केएम नानावटी बनाम महाराष्ट्र राज्य की कुख्यात कहानी अभी भी भारत में सबसे सनसनीखेज आपराधिक मामलों में से एक है। ऑल्ट बालाजी और ज़ी5 की आगामी सीरीज़ "द वर्डिक्ट - स्टेट वेर्सिस नानावटी" के सभी 10 एपिसोड 30 सिंतबर से स्ट्रीमिंग के लिए उपलब्ध होंगे।

 

यह भी पढ़ें: दूध के साथ कभी नमक या बैंगन तो नहीं खाया

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

आख़िर क्यों आ रहे हैं जबरिया जोड़ी के निर्देशक को धमकी भरे कॉल


आख़िर क्यों आ रहे हैं जबरिया जोड़ी के निर्देशक को धमकी भरे कॉल

सिद्धार्थ मल्होत्रा और परिणीति चोपड़ा इन दिनों फ़िल्म के प्रचार में व्यस्त हैं और हाल ही में अपनी आगामी फिल्म जबरिया जोड़ी के प्रचार के लिए दोनों दिल्ली पहुंचे थे। फिल्म अब अपनी रिलीज से महज चंद दिनों की दूरी पर है लेकिन फ़िल्म के रीयलिस्टिक विषय के कारण, निर्देशक प्रशांत सिंह को देश के असली बाहुबलियों से धमकी भरे कॉल मिल रहे हैं!

प्रशांत सिंह उसी क्षेत्र से तालुख रखते हैं, इसलिए वे उन शक्तिशाली लोगों के बारे में बहुत कुछ जानते हैं जो दूल्हे का अपहरण करने के व्यवसाय में हैं। प्रशांत ने फ़िल्म के लिए स्वयं सिद्धार्थ मल्होत्रा के स्टाइल को डिज़ाइन किया है, उनकी ड्रेसिंग स्टाइल से ले कर बोली तक हर चीज़ पर खुद प्रशांत ने बारीकी से काम किया है। फिल्म के अधिकांश दृश्य असली बाहुबलियों से प्रेरित हैं। लेकिन, धमकियों के बावजूद, निर्माता इसे बाहुबलियों के क्षेत्र में रिलीज़ करने के लिए निर्धारित हैं। jabariya jodi promotion director

सिद्धार्थ मल्होत्रा-परिणीति चोपड़ा अभिनीत आगामी फिल्म “जबरिया जोड़ी” अपनी रिलीज से पहले काफी सुर्खियां बटोर रही है। यह फ़िल्म ‘पकड़वा विवाह’ के विषय पर आधारित है।

“जबरिया जोड़ी” बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों से वास्तविक जीवन के दंपतियों और असल जिंदगी में दूल्हे के अपहरणकर्ताओं पर आधारित है। विषय को सबसे संवेदनशील और मजेदार तरीके से फ़िल्म में पिरोया गया है, लेकिन यह क्षेत्रों के बाहुबलियों को रास नहीं आ रही है। इन बाहुबलियों ने प्रशांत सिंह को फोन कर के फिल्म का प्रचार न करने की सलाह दी है और साथ ही इसकी रिलीज़ पर आपत्ति जताई है। jabariya jodi promotion director

ट्रेलर लॉन्च के तुरंत बाद से, प्रशांत को यह धमकी भरा कॉल आ रहे है। अनजान लोग लगातार उन्हें फोन कर रहे हैं, उन्हें फिल्म का प्रचार न करने और इसे रिलीज न करने के लिए भी कह रहे हैं। ये सभी बाहुबली फ़िल्म से असुरक्षित महसूस कर रहे हैं और दुनियां के सामने एक्सपोज़ होने से डर रहे हैं।

शोभा कपूर, एकता कपूर और शैलेश आर सिंह द्वारा निर्मित, जबरिया जोड़ी बालाजी टेलीफिल्म्स तथा कर्मा मीडिया एंड एंटरटेनमेंट प्रोडक्शन के तहत बनाई गई है जो 2 अगस्त 2019 में रिलीज होने के लिए तैयार है। ja

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

रानी की “हिचकी” ने जीता अवार्ड


रानी की “हिचकी” ने जीता अवार्ड

फिल्म अभिनेत्री रानी मुखर्जी की फिल्म ‘हिचकी’ वर्ष 2018 की शुरुआत में ही रिलीज हुई थी. इस फिल्म में रानी मुखर्जी की एक्टिंग और फिल्म की कहानी ने बॉक्स ऑफिस पर देश की जनता का दिल जीत लिया था. अब इसी फिल्म के नाम एक और उपलब्द्धि लगी है. दरअसल, इटली के गिफोनी फिल्म फेस्टिवल के 49वें संस्करण में ‘हिचकी’ को सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए ग्रिफॉन पुरस्कार से नवाजा गया.

इस पर फिल्म के निर्माता मनीष शर्मा ने कहा कि ‘हिचकी’ वास्तव में एक यूनिवर्सल फिल्म है जिसे विश्व भर के लोगों ने समझा है. बच्चों ने ‘हिचकी’ को महोत्सव के सर्वश्रेष्ठ फिल्म के रूप में वोट दिया, यह इस तथ्य को दर्शाता है कि फिल्म की कहानी बाधाओं को पार करने की है.

गौरतलब है कि, फिल्म फेस्टिवल में एलीमेंट्स प्लस 10 के नाम से एक खास सेगमेंट है जिसमें ज्यूरी के सदस्यों की आयु 10-12 के बीच में है. एलीमेंट्स प्लस 10 की श्रेणी में 1,500 से अधिक बच्चों ने चीन, जर्मनी, स्वीडेन, ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड्स के सात फीचर फिल्मों के लिए मतदान किया और इसमें ‘हिचकी’ को जीत हासिल हुई. यश राज फिल्म के इस प्रोजेक्ट ने अभी तक दुनियाभर में 250 करोड़ रुपये की कमाई कर ली है .

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×