CAA : दिल्ली में चल रहे विरोध प्रदर्शन लिया हिंसक रूप, अब तक 7 की मौत


CAA : दिल्ली में चल रहे विरोध प्रदर्शन लिया हिंसक रूप, अब तक 7 की मौत

राजधानी दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून के पक्ष और विपक्ष में पिछले तीन दिन से चल रहे विरोध प्रदर्शन ने सोमवार को हिंसक रूप ले लिया और इसमें एक जवान सहित 5 लोग मारे जा चुके हैं। मंगलवार सुबह भी जाफराबाद और बाबरपुर इलाके में स्थिति गम्भीरपूर्ण है।

 

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों एक प्रकार से सांप्रदायिक रूप ले लिया है। मौजपुर, कबीर नगर और जाफराबाद में मंगलवार को हिंसा के तीसरे दिन भी स्थिति बेहद तनावपूर्ण हैं। मौजपुर में तो सुबह-सुबह ही पत्थरबाजी शुरू हो गई,जहां कुछ वाहनों को भी जलाए जाने की खबर है।


वहीं, अभी तक शाहीन बाग में सीएए विरोधियों द्वारा मीडिया को निशाना बनाए जाने की खबरें आ रही थीं, लेकिन मौजपुर और जाफराबाद में हिंसा के तीसरे दिन CAA समर्थकों ने भी अब मीडिया के कवरेज पर रोक लगा दि है। मौजपुर में रात को हुई हिंसा के बाद मंगलवार सुबह सीएए के समर्थकों ने कवरेज करने गए पत्रकारों के कैमरे बंद करवा दिए और मोबाइल जेब में रखवा दिए।


दिल्ली के करावल नगर से खबर आ रही है जहां  मंगलवार सुबह से ही पत्थरबाजी और आगजनी की खबरें आ रही हैं। ब्रह्मपुरा इलाके में दो गुटों में पथराव की घटना के बाद रैपिड ऐक्शन फोर्स ने फ्लैग मार्च किया है। दिल्ली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, आज सुबह मौजपुर और ब्रह्मपुरा इलाके में फिर से पथराव की घटना हुई है।

 

मौजपुर और जाफराबाद में सोमवार रात भड़की हिंसा के बाद इलाके में जबर्दस्त खौफ पसरा हुआ है। मौजपुर की हिंदू बहुल कॉलोनिया में लोगो में खौफ ऐसा है कि रात भर कुर्सियां डाले पहरा देते रहे लोग। कुछ लोग सड़कों पर कुर्सियां डाल कर रत भर चौकीदारी करते रहे।

 

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कल देर रात दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों और मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों के साथ दिल्ली की कानून-व्यवस्था को लेकर बैठकें कीं। दिल्ली पुलिस ने बताया कि स्थिति अभी बेहद तनावपूर्ण है। हमें उत्तरी-पूर्वी दिल्ली से हमें हिंसा से जुड़ी खबरें मिल रही हैं। दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने सीलमपुर के डीसीपी के साथ कर रात बैठक की है।

 

आपको बता कि दिल्ली में हुई हिंसा को देखते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रभावित इलाकों के विधायकों की तत्काल बैठक बुलाई है। केजरीवाल के आवास पर होने वाली इस बैठक में मौजूदा स्थिति पर चर्चा की जाएगी। 

 

 

 Ongoing protests in Delhi took violent form, 7 killed so far, delhi news, caa, nrc, big breaking, jafrabad, delhi police, babrpur, kabirganj, modi, anit shah, arvind kejriwal 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

बेबाक पत्रकार रवीश कुमार को मिला ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार


बेबाक पत्रकार रवीश कुमार को मिला ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार

हिंदी पत्रकारिता जगत में अपनी अलग पहचान बना चुके NDTV के रवीश कुमार को बेस्ट अवार्ड से सम्मानित किया गया है. ये अवार्ड 2019 के ‘रैमॉन मैगसेसे’ पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इस अवार्ड को ‘रैमॉन मैगसेसे’ को एशिया का नोबेल पुरस्कार के नाम से जाना जाता है. यह पुरस्कार फिलीपीन्स के भूतपूर्व राष्ट्रपति रैमॉन मैगसेसे की याद में दिया जाता है.

आपको बता दें कि, सम्मान के लिए पुरस्कार संस्था ने ट्वीट कर बताया कि रवीश कुमार को यह सम्मान “बेआवाजों की आवाज बनने के लिए दिया गया है.” रवीश कुमार का कार्यक्रम ‘प्राइम टाइम’ ‘आम लोगों की वास्तविक, अनकही समस्याओं को उठाता है.” साथ ही प्रशस्ति पत्र में कहा गया की, ‘अगर आप लोगों की अवाज बन गए हैं, तो आप पत्रकार हैं.’ 

आपको बता दें कि, रवीश कुमार ऐसे छठे पत्रकार हैं जिनको यह पुरस्कार मिला है. इससे पहले अमिताभ चौधरी (1961), बीजी वर्गीज (1975), अरुण शौरी (1982), आरके लक्ष्मण (1984), पी. साईंनाथ (2007) को यह सम्मान मिल चुका है.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

28,000 और जवानों को कश्मीर में किया गया तैनात, हाई अलर्ट पर फोर्सेज


28,000 और जवानों को कश्मीर में किया गया तैनात, हाई अलर्ट पर फोर्सेज

हाल ही में जम्मू कश्मीर में 10,000 हजार अतिरिक्त जवानों की तैनाती के एक हफ्ते के भीतर बड़ा कदम उठाते हुए मोदी सरकार ने कश्मीर 28,000 और अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती कर दिया है. इसके साथ ही सरकार ने सेना और वायुसेना को ऑपरेशनल अलर्ट पर रहने को कहा है.

जिसके चलते स्थानीय नागरिकों में पहचल शुरु हो गई है और लोगों ने तेजी से राशन पानी जुटाना शुरु कर दिया है. इस बीच राज्य के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने सरकार के इस अप्रत्याशित कदम पर ट्वीट कर कहा कि “ऐसी कौन सी वर्तमान परिस्थिति है जिसके चलते केंद्र सरकार ने सेना और वायुसेना को ऑपरेशनल अलर्ट पर ऱखा हुआ है, निश्चित तौर पर यह मामला 35ए अथवा परिसीमन से जुड़ा नहीं हैं. अगर सच में इस तरह का कोई अलर्ट जारी किया गया है तो यह बिल्कुल अलग चीज है.”

खास बात यह है कि इन सभी सुरक्षाबलों की राज्य के अति संवेदनशील माने जाने वाले इलाकों में भारी मात्रा में तैनाती की गई हैं. इसके अलावा राज्य के सभी जगहों पर अर्धसैनिक बलों ने कब्जा कर लिया है और प्रदेश पुलिस सिर्फ प्रतीकात्मक बन कर रह गई है.

घाटी में इतनी अधिक मात्रा में सुरक्षाबलों की तैनाती को लेकर हमारे सूत्रों का कहना है कि सरकार 370 और 35ए को लेकर कुछ बड़ा करने की तैयारी कर रही है. हालांकि सरकार का कहना है कि सीमापार से आतंकवादी कश्मीर में बड़ा हमला करने की फिराक में हैं जिसके मद्देनजर किया है.

लेकिन राजनीति के जानकारों का मानना है कि सरकार यह सब ध्यान भटकाने के लिए कह रही है जबकि असल में सरकार कुछ अलग और बड़ा करने की तैयारी कर रही है.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×