केजरीवाल के पास दिल्ली का दुख-दर्द सुनने के लिए समय नहीं है: मनोज तिवारी


केजरीवाल के पास दिल्ली का दुख-दर्द सुनने के लिए समय नहीं है: मनोज तिवारी

दिल्ली कैट्स एम्बुलेंस कर्मचारियों द्वारा लगातार 65 दिनों से मुख्यमंत्री निवास के नजदीक किये जा रहे आमरण अनशन का समर्थन करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि केजरीवाल को दिल्ली का दुख-दर्द जानने का समय नहीं है और न ही उनके मंत्रियों के पास इतना समय है कि वह लोगों की समस्या सुन सकें.

 

यदि केजरीवाल संवेदनशील होते तो उनके आवास के समीप 65 दिनों से बैठे कैट्स एम्बुलेंस सेवा के कर्मचारियों की पीढ़ा जरूर महसूस करते. धरने पर बैठे जसवंत लाकड़ा, हरीश कुमार, सुनील रोज, अवतार सिंह, राजू, महावीर गूजर एवं विकास यादव सहित वहां उपस्थित लोगों ने दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी का समर्थन देने पर आभार व्यक्ति किया.

 

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी बचपन में जहां चाय बेचते थे, वहां बनेगा पर्यटन स्थल

 

तिवारी ने कैट्स एम्बुलेंस कर्मचारियों का समर्थन करते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी उनके साथ खड़ी है और भाजपा की लीगल टीम भी उनको सहायता देने के लिए तत्पर रहेगी. केजरीवाल ने अपने घोषाणा पत्र में कहा था कि कान्ट्रैक्चुअल कर्मचारियों को पक्का किया जायेगा, लेकिन सत्ता में आने के बाद कर्मचारियों को पक्का करने बी बजाये उनको नौकरी से निकाल दिया गया.

 

भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने पर कान्ट्रैक्चुअल कर्मचारियों को 58 साल तक की नौकरी सुरक्षित की जायेगी. तिवारी ने कहा कि कैट्स एम्बुलेंस के 1500 कर्मचारी 8 साल से दिल्ली सरकार के तहत अपनी सेवायें दे रहे थे, लेकिन  30 जून 2019 को तीन माह का वेतन दिये बिना उन्हें नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया और एक निजी कम्पनी को ठेका दे दिया गया. जिसमें भारी भ्रष्टाचार की बू आ रही है, इसकी जांच होनी चाहिये.

 

कर्मचारियों को बहाल करने का समर्थन करते हुये उन्होंने कहा कि इन कर्मचारियों का तीन माह का रूका वेतन तुरन्त दिया जाये और इन सभी कर्मचारियों को बहाल किया जाना चाहिये.

 

यह भी पढ़ें: बढे यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के घरेलू नुस्खे

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×