'I Love Kejriwal' कैम्पेन चलाने पर मनोज तिवारी का बयान


'I Love Kejriwal' कैम्पेन चलाने पर मनोज तिवारी का बयान

आम आदमी पार्टी द्वारा आई लव केजरीवाल अभियान चलाना दिल्ली की राजनीति से केजरीवाल की गिरती लोकप्रियता का परिचायक है. केजरीवाल के इस अभियान पर तंज कसते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि केजरीवाल को खुद आई लव केजरीवाल कहना पड़ रहा है, इससे यह साबित होता है कि दिल्ली में केजरीवाल से प्यार करने वाला अब कोई नहीं बचा है इसलिये केजरीवाल ने स्वयं ही अपना स्लोगन लांच कर दिया है. 

 

तिवारी ने कहा कि विडम्बना यह है कि अरविन्द केजरीवाल अपने अलावा और किसी से प्यार नहीं करते हैं, काश ये दिल्ली से प्यार करते तो आज दिल्ली के कान्ट्रैक्टचुअल कर्मचारियों की रोजी रोटी का खतरा पैदा नहीं होता, दिल्ली प्रदूषण में नम्बर-1 नहीं होती, दिल्ली की अनधिकृत कालोनियों की इतनी दुर्दशा नहीं होती, दिल्ली के गरीबों का 5 लाख रूपये तक फ्री इलाज आयुष्मान भारत योजना के तहत नहीं रोकते, प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीबों को मिलने वाले घर को बनने से नहीं रोकते.

 

केजरीवाल ने दिल्ली की पिछले 54 महीनों में जो दुर्दशा की है उसकी बहुत लम्बी सूची है, लेकिन उन्होंने दिल्ली को जो पीढ़ा दी है उसका हिसाब किताब चुकता करने का समय आ चुका है. उन्होंने कहा कि केजरीवाल स्वयं से एवं भ्रष्टाचारियों से प्यार करते हैं, इस बात को केजरीवाल ने स्वयं कबूल कर लिया है. दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी दिल्ली के लोगों से प्यार करती है, उनकी समस्याओं को निपटाने में विश्वास करती है. 

 

तिवारी ने कहा कि निगम और लोकसभा चुनाव के परिणाम ने आम आदमी पार्टी को अन्दर से झकझोर के रख दिया है. केजरीवाल को समझ नहीं आ रहा है कि वो ऐसा क्या करें जिसके कारण वो सत्ता में बने रहें. केजरीवाल ने हर हथकंडा अपना कर देख लिया, हर दिन नया झूठ बोलना और दिल्ली के लोगों में हर तरह की नकारात्मकता फैलाकर केजरीवाल ने यह स्पष्ट कर दिया कि जनता के बीच उनकी विश्वसनीयता का स्तर एकदम शून्य हो चुका है.

 

इसे भी पढ़ें: महानगर मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी

 

arvind kejriwal manoj tiwari

 

केजरीवाल ने राजनीतिक मर्यादाओं से बहुत नीचे जाकर अपनी सत्ता बचाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन दिल्ली की जनता ने लोकसभा जैसा ही फैसला भाजपा के पक्ष में विधानसभा में देने का मन बना लिया है. तिवारी ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की जनता से किये एक भी चुनावी वादों को पूरा नहीं किया. दिल्ली के लोगों ने क्षेत्र के विकास के लिए काम करने का अनुरोध किया तो उन्हें यह बोला गया कि आपने आम आदमी पार्टी को वोट नहीं दिया, इसलिए आपका काम हम नहीं करेंगे.

 

जनता ने सड़के, शिक्षा व्यवस्था, अच्छा इन्फ्रास्ट्रक्चर मांगा तो बदले में उनके बीच झूठ व भ्रम को परोसा गया कि केन्द्र सरकार ने पैसा नहीं दिया इसलिये काम रूक गये हैं. दिल्ली सरकार स्वयं टैक्स पैयर से हजारों करोड़ रूपये वसूलती है कि दिल्ली के सभी काम हो जाये, लेकिन बीते साढ़े चार वर्ष में दावें के साथ यह कहा जा सकता है कि जितना काम आम आदमी पार्टी के 67 विधायकों ने दिल्ली में किया उससे कहीं अधिक काम पूरी दिल्ली के लिए सभी सांसदों ने केन्द्र सरकार की सहायता से कर दिया है.

 

तिवारी ने कहा कि राजनीति का रूप केवल दलगत राजनीति करना नहीं है बल्कि उससे ऊपर उठ कर समाज कल्याण के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करना ही सही मायनो में राजनीति करना है. झूठ व फरेब कर दिल्ली की जनता को 54  महीने के कार्यकाल में आम आदमी पार्टी ने खूब ठगा, लेकिन अब बस, दिल्ली के लोग समझ चुके हैं और उन्हें पता है कि देश में मोदी दिल्ली में भाजपा तभी बनेगी बात, दिल्ली चले मोदी के साथ.

 

आने वालें दिनों में हमारा अभियान दिल्ली बचाओं परिवर्तन यात्रा दिल्ली की सभी विधानसभाओं तक पहुंचकर केजरीवाल को उनकी अकर्मण्यता का आईना दिखायेगा. दिल्ली की जनता थोड़े दिनों तक और इंतजार करे क्योंकि भारतीय जनता पार्टी की सरकार आते ही दिल्ली की जनता के दुख-दर्द का निवारण किया जायेगा.

 

इसे भी पढ़ें: घी के फायदे जानकर दंग रह जायेंग

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

-
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×