केजरीवाल सरकार ने रेहड़ी पटरी वालों के लिए कुछ भी नहीं किया- मनोज तिवारी


केजरीवाल सरकार ने रेहड़ी पटरी वालों के लिए कुछ भी नहीं किया- मनोज तिवारी

रेहड़ी पटरी यूनियन के एक प्रतिनिधि मण्डल ने दिल्ली के सभी टाउन वेंडिंग कमिटी के सदस्यों के साथ अपनी समस्याओं को लेकर भारतीय जनता पार्टी दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी के आवास पर एक बैठक की। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य रेहड़ी पटरी व्यापारियों को होने वाली समस्याओं को लेकर था जिसके समाधान के लिए केजरीवाल सरकार ने कभी कोई गम्भीरता नहीं दिखाई है। इस अवसर पर दिल्ली भाजपा पूर्वांचल मोर्चा के अध्यक्ष मनीष सिंह, मयूर विहार जिला महामंत्री नलिन त्रिपाठी एवं रेहड़ी पटरी यूनियन के अध्यक्ष सागर यादव उपस्थित थे।

रेहड़ी पटरी यूनियन के लोगों को सम्बोधित करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि आप लोग अपनी मेहनत व लगन से व्यापार करना चाहते है और मैं आपकी समस्याओं को सुनने के लिए हमेशा तैयार हूं। रेहड़ी पटरी वालों को आये दिन तंग किया जाता है, जिसका सीधा असर उनके व्यापार पर पड़ता है। आप लोगों की समस्याओं का समाधान करने के लिए हमारा प्रयास हर स्तर पर जारी है, लेकिन केजरीवाल सरकार ने 56 महीनों का कार्यकाल बीत जाने के बाद भी टाउन वेंडिग कमेटी का गठन आज तक नहीं किया है। रेहड़ी पटरी वालों के अपार प्यार व जनसमर्थन के साथ ही दिल्ली की सत्ता में केजरीवाल बैठ पाये हैं, लेकिन सत्ता में आने के बाद भी केजरीवाल ने इन लोगों से किये किसी भी चुनावी वादे को पूरा नहीं किया है। 

तिवारी ने कहा कि अपने वादों को पूरा न करना और सड़क किनारे दो जून की रोटी कमाने वाले आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के व्यक्ति को परेशान करना, दिल्ली सरकार की नीतियों का हिस्सा बन चुका है। क्योंकि भ्रष्टाचार के विरोध में जन्मी पार्टी ने आम आदमी को धोखा देने के साथ ही भ्रष्टाचार भी सबसे अधिक किया है। केजरीवाल की जनविरोधी नीतियों के कारण आज रेहड़ी पटरी पर व्यापार करने वाले लोग सबसे ज्यादा रोष में हैं। रेहड़ी पटरी वालों के व्यापार करने में अक्सर व्यावधान उत्पन्न किये जाते हैं, जिसका एकमात्र उद्देश्य केजरीवाल सरकार में बैठे विधायकों व मंत्रियों द्वारा मोटी रकम के रूप में भ्रष्टाचार को बढ़ावा देना है।

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि रेहड़ी पटरी वालों की समस्याओं को हल करने के लिए ओपन फोरम का आयोजन किया जायेगा, जिसमें तीनों निगमों के मेयर, निगम आयुक्त एवं पुलिस प्रतिनिधियों को शामिल किया जायेगा और रेहड़ी पटरी वालों की समस्याओं को सुलझाने के लिए तुरन्त कार्यवाही के आदेश दिये जायेंगे। दिल्ली में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनने के बाद रेहड़ी पटरी को लेकर वर्ष 2007 को किये गये सर्वे को आधार बनाकर जिन रेहडी पटरियों का रजिस्ट्रेशन वर्ष 2007 के बाद हुआ है उनको भी वही स्टेटस दिया जायेगा। भाजपा सबका साथ, सबका विकास, सबके विश्वास के साथ करने के लिए संकल्पित है और विकास की मुख्यधारा से दिल्ली को पूरी तरह से जोड़ने के लिए हमारा प्रयास जारी है। दिल्ली में भाजपा की सरकार बनने के बाद इसे और गति मिलेगी। 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

-
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×