आज है कालाष्टमी व्रत, जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास


आज है कालाष्टमी व्रत, जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

वेदों, पुराणों एवम शास्त्रों के अनुसार वर्ष के प्रत्येक माह में कृष्ण पक्ष की अष्ठमी को कालाष्टमी मनाई जाती है। तदानुसार, भाद्रपद में 23 अगस्त 2019 को कालाष्टमी है। कृष्ण पक्ष की अष्टमी को कालाष्टमी मनाई जाती है। इस दिन लोग भगवान भैरव जी की पूजा व व्रत करते है।

 

एक समय की बात है, जब भगवान विष्णु और भगवान ब्रह्मा के बीच महज छोटी सी बात को लेकर विवाद उत्पन्न हो गया कि उन दोनों में श्रेष्ठ कौन है? समय के साथ विवाद और बढ़ता गया और अंततः भगवान शिव जी की देख रेख में एक सभा बुलाई गयी। 

 

शेयर बाजार में हडकम्प, 1 दिन में 2.20 लाख करोड़ रुपये डूबे

 

जिसमें ऋषि मुनि और सिद्ध संत उपस्तिथ हुए, और सभा ने निर्णय सुनाया की भगवन ब्रह्मा, भगवान विष्णु और भगवान शिव जी एक ही है, मानव जाति के उत्थान और सृष्टि की भलाई के लिए वे अनेक रूप में प्रकट हुए है।

 

जिसे भगवान विष्णु ने स्वीकार कर लिया परन्तु भगवान ब्रह्मा जी इस निर्णय से संतुष्ट नही हुए और भगवान ब्रह्मा ने इस निर्णय के लिए भगवान शिव जी का अपमान किया।

 

पूरी कथा पढ़ने के लिए क्लिक करें  

और पढ़ें »

खास आपके लिए

-
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×