भारत को मिली बड़ी सफलता, हाफिज सईद सलाखों के पीछे 


भारत को मिली बड़ी सफलता, हाफिज सईद सलाखों के पीछे 

2008 मे हुए मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को टेरर फंडिंग केस में दोषी साबित करार दिया गया है। लाहौर की ऐंटी टेरर कोर्ट लश्कर-ए-तैयबा चीफ हाफिज को दोषी ठहराते हुए 5 साल की सजा सुनाई है। आतंकी हाफिज के खिलाफ आतंकी फंडिंग, मनी लॉन्ड्रिंग और अवैध कब्जे के कुल 29 मामले दर्ज हैं। ऐसा माना जा रहा है पाकिस्तान पर FATF की काली सूची में शामिल होने का जब खतरा मंडराने लगा तो इसी डर से हाफिज को दोषी घोषित किया।

 

वहीं, इस फैसले से भारत बहुत खुश है क्योंकि भारत पिछले 11 सालों से ज्यादा वक्त से हाफिज को कानून के कटघरे में खड़ा करने की लड़ाई लड़ रहा है। आपको बता दें कि अगर पाक एफएटीएफ की काली सूची में शामिल होता है तो उसकी डूब रही अर्थव्यवस्था को उबारना और भी मुश्किल हो जाएगा। भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से लेकर संयुक्त राष्ट्र महासभा तक में समय-समय पर पाक में पल रहे आतंक की बात पूरे जोर-शोर से उठाई है।

 

 

भारत के इस न्याय की लड़ाई में अमेरिका का भी पूरा साथ मिलता रहा है। अमेरिका ने  हाल ही में जमात-उद-दावा चीफ हाफिज के खिलाफ मुकदमा तेज करने की अपील की थी। दिसंबर में हाफिज और उसके तीन करीबी सहयोगियों- हाफिज अब्दुल सलाम बिन मुहम्मद, मुहम्मद अशरफ और जफर इकबाल के खिलाफ आरोप तय किए गए थे जिसका अमेरिका ने स्वागत किया था।

 

अमेरिका की दक्षिण और मध्य एशिया की कार्यवाहक सहायक विदेश मंत्री एलिस जी वेल्स ने कहा था, 'हम पाकिस्तान से अपील करते हैं कि वह आतंकवाद के वित्त पोषण को बंद करने और 26/11 जैसे आतंकवादी हमलों के दोषियों को सजा दिलाने के लिए अपने अंतरराष्ट्रीय दायित्वों के अनुसार पूर्ण रूप से मुकदमा चलाए और तेजी से सुनवाई करें।'

 


गौरतलब है कि आतंकवाद और उससे जुड़े लोगो पर कड़ी नजर रखने  वाली अंतरराष्ट्रीय निगरानी संस्था वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (एफएटीएफ) ने पाकिस्तान को अपनी ग्रे सूची में डाल दिया है और उसपर काली सूची में जाने का खतरा मंडरा रहा था। एफएटीएफ पाकिस्तान को चेतावनी दी गई थी कि यदि पाकिस्तान फरवरी तक आतंकवाद के वित्तपोषण पर नियंत्रण नहीं करता है तो उसे काली सूची में डाल दिया जाएगा।

 

उसके बाद से ही पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने हाफिज की नकेल कसने शुरू की थी। हालांकि, हाल ही में एफएटीएफ ने पाक द्वारा आतंकवाद के खिलाफ उठाये गए कदम से खुश होने की संभावना जताई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार,पाकिस्तान अगले महीने ग्रे लिस्ट से बाहर आ सकता है। हाफिज के खिलाफ आया कोर्ट का फैसला उसी से जोड़कर देखा जा रहा है।

 

विदित है कि 26 नवंबर 2008 को भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई में लश्कर के 10 आतंकियों ने हमला किया था जिसमें 180 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी जबकि 500 से अधिक लोग घायल हो गए थे। उस दिन मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन, मुंबई के आलीशान ताज महल और ट्राइडेंड होटल सहित कई इलाके को निशाना बनाया गया था। मरने वालों में विदेशी नागरिक भी शामिल थे। इस घटना के बाद अमेरिका ने हाफिज को ब्लैक लिस्ट कर दिया था और उसपर इनाम भी घोषित किया था लेकिन नापाक पाकिस्तान हमेशा उसे बचाता रहा।

 

India got big win, Hafiz Saeed behind bars, मुंबई हमला, हाफिज सईद, पाकिस्तान, भारत, संयुक्त राष्ट्र महासभा, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद, imran khan,nrendra modi, donald trump

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

समझौता एक्सप्रेस को पाकिस्तान ने रोका! कहा, ‘ले जाओ अपनी ट्रेन’


समझौता एक्सप्रेस को पाकिस्तान ने रोका! कहा, ‘ले जाओ अपनी ट्रेन’

केंद्र सरकार के बड़े फैसले के बाद पाकिस्तान इसके विरोध पर उतर आया है. पाकिस्तन में इस समय चारों तरफ आर्टिकल 370 का विरोध प्रदर्शन जारी है. इसी घटनाक्रम में पाकिस्तान ने पहले तो हिंदुस्तान के साथ होने वाले व्यापार पर रोक लगाई और उसके बाद दोनों देशों के बीच चलने वाली समझौता एक्सप्रेस को रोक दिया है. हालंकी ये सब करने से पाकिस्तान के ही अधिक नुकसान होने वाला है.

आपको बता दें कि, समझौता एक्सप्रेस ये वो ट्रेन है जो भारत-पाक को आपस में जोड़ने की काम करती है. अभी कुछ माह पहने पाकिस्तान ने बालाकोट भारतीय एयरस्ट्राइक के बाद इस ट्रेन पर रोक लगाई थी लेकिन मई में ये ट्रेन सेवा फिर चालू की गई थी. 

एकता कपूर ने बालाजी टेलीफिल्म्स के साथ 25 साल किये पूरे

मगर इस बार फिर जब जम्मू-कशमीर से आर्टिकल 370 हटाया गया तो पाक ने इस बार फिर इस सेवा पर रोक लगा दी है. इससे पहले 13 दिसंबर 2001 को संसद पर हमले के बाद समझौता एक्सप्रेस रोक दी गई थी. 27 दिसंबर 2007 को बेनजीर भुट्टो हमले के बाद इस ट्रेन को रोक दिया गया था. samjhauta express india pakistan

गौरतलब है कि, समझौता एक्सप्रेस का इतिहास 43 वर्ष पुराना है. इसकी नींव 1971 के भारत-पाक युद्ध के बाद हुए दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों PM इंदिरा गांधी और जुल्फिकार अली भुट्टो के बीच हुए शिमला समझौता में पड़ी. समझौता एक्सप्रेस भारत-पाक के बीच चलने वाली ट्रेन है. भारत में यह ट्रेन दिल्ली से पंजाब स्थित अटारी तक जाती है. samjhauta express india pakistan

अटारी से वाघा बॉर्डर तक तीन किलोमीटर की सीमा पार करती है. इस दौरान BSF के जवान घोड़ागाड़ी से इसकी निगरानी करते हैं. आगे-आगे चलकर पटरियों की पड़ताड़ भी करते चलते है. सीमा पार करने के बाद यह ट्रेन पा‌किस्तान के लाहौर जाती है. 

जिम जाने वालों, घर पर प्रोटीन पाउडर बनाने के उपाय।

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

नवाज शरीफ से मिलते वक्त बेटी मरियम हुई गिरफ्तार


नवाज शरीफ से मिलते वक्त बेटी मरियम हुई गिरफ्तार

पाकिस्तान के पूर्व PM नवाज शरीफ की मुश्किले कम होने का नाम नहीं ले रही है. दरअसल, आय से अधिक संपत्ति के मामले में जेल की सजा काट रहे पाक के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज को आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

खबरों द्रारा बताया जा रहा है की जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 लागू होने के मरियम ने इमरान खान को जमकर खरी खोटी सुनाई थी. इसके अलावा नवाज शरीफ की बेटी ने कहा था कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर मध्यस्थता की बात करके इमरान को मूर्ख बना दिया. इमरान इस बात का अनुमान ही नहीं लगा पाए कि भारत की योजना क्या है? nawaz sharif daughter maryam

घाटी में आत्मघाती हमले की फिराक में आतंकी

आपको बता दें कि, मरियम को पुलिस ने जेल में उस वक्त ही गिरफ्तार कर लिया. जब मरियम अपने पिता नवाज शरीफ से मिलने लाहौर की कोट लखपत जेल गई थीं.

बता दें कि, मरियम इस समय पाकिस्तान मुस्लिम लीग नवाज (पीएमएल-एन) की उपाध्यक्ष हैं. फिलहाल मरियम को एनएबी मुख्यालय ले जाया गया है, जहां पुलिस उनसे पूछताछ करेगी. nawaz sharif daughter maryam

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×