बिना कोचिंग के कैसे करे SSC-CGL की तैयारी


बिना कोचिंग के कैसे करे SSC-CGL की तैयारी

कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) विभिन्न सरकारी कार्यालयों और विभागों में पदों के लिए संयुक्त स्नातक स्तर (सीजीएल) परीक्षा आयोजित करता है, जैसे जैसे रिक्तियों के जरुरत होती है। परीक्षा लगभग हर साल आयोजित की जाती है जिसके लिए लाखों इच्छुक उम्मीदवार पूरे देश से अप्लाई करते हैं।

 

उम्मीदवारों को लिखित परीक्षा और एसएससी द्वारा आयोजित व्यक्तिगत साक्षात्कार में उनके प्रदर्शन के आधार पर वांछित पदों के लिए चुना जाता है। ये परीक्षाएं विभिन्न परीक्षा केंद्रों के माध्यम से पूरे देश में आयोजित की जाती हैं और जो कट-ऑफ अंक स्कोर को प्राप्त करते हैं, वे व्यक्तिगत साक्षात्कार दौर के लिए आगे बढ़ते हैं। एसएससी सीजीएल परीक्षा के तहत पेश की गई पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की बड़ी संख्या के कारण प्रतिस्पर्धा काफी गंभीर और कठिन है।

 

इसके लिए पूर्ण प्रमाण तैयारी की आवश्यकता होती है ताकि लिखित परीक्षा को क्रैक करने के बाद, चयन के अगले दौर में जाया जा सके। उम्मीदवार अक्सर परीक्षाओं हेतु तैयार करने के लिए कोचिंग के लिए अक्सर जाते हैं, क्योंकि यह उन्हें पैटर्न को समझने, मोक्क प्रश्नों को सुलझाने, नई तरकीबें सीखने में मदद करता है और परीक्षा में समय को कुशलता से प्रबंधित करने में सक्षम बनाता है। लेकिन ऐसे कई लोग हैं जो खुद से तैयारी के लिए अपने खुद के निर्धारित समय में सेल्फ-स्टडी करना पसंद करते हैं।

 

 

कई उम्मीदवार समय की कमी के कारण कोचिंग संस्थान में शामिल नहीं हो सकते, क्योंकि वे पहले ही कुछ नौकरी या सेवाओं में कार्यरत होते हैं व इसके अलावा, कई उम्मीदवार, जो अभी भी अपनी उच्च डिग्री के लिए अध्ययन कर रहे हैं, परीक्षा की तैयार करने के लिए कोचिंग कक्षाओं में जाने का प्रबंधन नहीं कर सकते। इसलिए वे अपने घर पर आराम से और अतिरिक्त समय जो कि वे अपने दैनिक दिनचर्या से प्राप्त करते हैं, में खुद को परीक्षा के लिए तैयार करते हैं।

 

SSC Preparation : कोचिंग कक्षाओं के बिना तैयारी एसएससी सीजीएल जैसे प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी एक मुश्किल मामला है। स्टडी सामग्री की नियमित समीक्षा के लिए उसे निरंतर अभ्यास और समर्पित समय की आवश्यकता होती है।

 

एसएससी सीजीएल एक तीन स्तरीय चयन परीक्षा होती है जिसमें टियर I प्रैलिम लिखित परीक्षा, द्वितीय स्तर के लिखित परीक्षा और त्रितय श्रेणी में स्किल टेस्ट/ वर्णनात्मक प्रकार का होता है। जैसे ही पोस्ट के लिए अधिसूचना प्रकाशित हो जाती है, उम्मीदवारों को परीक्षा की तैयारी शुरू करनी चाहिए। टीयर-1 लिखित परीक्षा में कुल चार विभाग होते हैं जिसमें कुल २०० अंक होंगे, जिसके लिए उम्मीदवारों को कुल १ घंटे का समय मिलेगा।

 

 

स्तरीय द्वितीय परीक्षा बहुत मुश्किल और तेज है, जिसके लिए उम्मीदवारों द्वारा बेहतर समय प्रबंधन और तैयारी कौशल की आवश्यकता होती है। इसके लिए कुछ सुझाव निम्न प्रकार से हैं जो उम्मीदवारों को किसी भी कोचिंग क्लास में जाये किए बिना परीक्षा के लिए तैयार कर सकते हैं-

 

1. पाठ्यक्रम का एक संपूर्ण विचार प्राप्त करें : इच्छुक उम्मीदवारों की पहली और सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी आधिकारिक अधिसूचना के माध्यम से पाठ्यक्रम, प्रश्न पैटर्न, पिछले साल के प्रश्न और परीक्षा में संख्याओं को प्राप्त करना है। इंटरनेट में थोड़ा सा खोजने पर बहुत सारे स्रोत उपलब्ध हो जायेंगे, जिसके माध्यम से उम्मीदवार परीक्षा पैटर्न को काफी अच्छी तरह समझ सकते हैं। यह उनकी तैयारी के आधार को मज़बूत करेगा और उन्हें अपने कमजोर क्षेत्रों को खोजने में मदद करेगा, जिसमें वे बहुत शुरुआत से ही ध्यान केंद्रित करके तैयार कर सकते हैं।

 

2. ट्रिक्स और पद्धति की तलाश करें : नए तरीकों, तकनीकों और मुश्किल सवालों को सुलझाने की उप्लभदता के कारण उम्मीदवारों के लिए कोचिंग को ज्वाइन करना सबसे आसान होता है। ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने किसी भी कोचिंग में भाग लेने का फैसला नहीं किया है, उनको इन प्रतियोगिताओं परीक्षाओं में अच्छे प्रदर्शन के लिए विभिन्न प्रतियोगी परीक्षा गाइडबुकों, इंटरनेट ब्लॉग, समर्पित पत्रिकाएं और परीक्षा के क्षेत्र में ऐसे कई विशेषज्ञों के ब्लॉग देखने चाहिए। वे अपने साथियों या वरिष्ठों से, जो कम से कम समय में युक्तियों और विधियों के माध्यम से प्रश्न सुलझने में काफी सक्षम व खुद से परीक्षा के लिए सफलतापूर्वक तैयारी करने में अनुभवी है, मदद या विचार प्राप्त कर सकते हैं।

 

3. समय को ध्यान में रखें : समय प्रबंधन एक और ऐसा कौशल है जिसे कोचिंग संस्थानों में छात्रों को पढ़ाया जाता है। ऐसी परीक्षाओं में समय का मूल्य वास्तव में महत्वपूर्ण है और इस प्रकार उम्मीदवार, तैयारी करते समय खुद अपना विभिन्न अनुभागो को हल करने के समय को जांच सकते है व आवश्यकतानुसार तैयारी भी कर सकते हैं। उन्हें प्रश्न-पत्र के प्रत्येक प्रश्न, मोक्क प्रश्नों और परीक्षा अभ्यासों को हल करते समय व्यक्तिगत तौर पर समय को पहले से निर्धारित कर लेना चाहिए। इससे आप प्रशनो को सुलझाने में प्रत्येक प्रयास में अपने द्वारा लिए गए समय को नियंत्रित और बेहतर कर सकते है।

 

4. विभिन्न पठन सामग्री और स्रोतों को देखें : उम्मीदवारों को अपने लिए उपलब्ध विभिन्न स्रोतों से तथ्यों और जानकारी की निकालना चाहिए। आपको पुस्तकों से मिले लाभित ज्ञान से फायदा तो लेना चाहिए परन्तु मात्र इस पर ही निर्भर नहीं होना चाहिए। इसके अलावा, आपको राष्ट्रीय मीडिया, इंटरनेट ब्लॉगस, पत्रिकाओ, सोशल मीडिया, टेलीविज़न और संचार के अन्य माध्यमों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की अधिकांश जानकारी प्राप्त करने के लिए उपयोग करना चाहिए। जिससे कि आप खुद को नवीनतम जानकारी और घटनाओं जो दुनिया भर में होती हैं, के रूबरू रख सके।

 

5. आत्मविश्वास को दृढ बनाये : किसी भी ऐसी प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता की कुंजी है, आत्मविश्वास। क्योंकि, एसएससी सीजीएल कोई अपवाद नहीं है। परीक्षा के लिए तैयारी करते समय आपको अपने आप मे विश्वास रखने की ज़रूरत है और इससे आप प्रश्न पत्र की मुश्किलों को पार करके और इच्छित पद को आसानी से प्राप्त कर लेंगे। विकसित किया गया आत्मविश्वास परीक्षा हॉल और प्रस्तुत प्रश्नों को सुलझाने में मदद करता है।

 

ssc cgl 2020, ssc cgl descriptive, english preparation, ssc cpo, ssc cgl mains, railway,1 st attempt में crack करें ssc cgl exam, best motivational video, hard work, 5 best tips, inspirational, ssc cgl top post and salary, exams, exam tips

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×