जानें कपूर खानदान के लाडले ऋषि कपूर का फिल्मी सफर, कैसे इंडस्ट्री में बनाई अपनी अलग पहचान


जानें कपूर खानदान के लाडले ऋषि कपूर का फिल्मी सफर, कैसे इंडस्ट्री में बनाई अपनी अलग पहचान

बॉलीवुड के महान एक्टर ऋषि कपूर अब इस दुनिया में नहीं रहे। ऋषि कपूर लगभग पांच दशकों से ज्यादा से फिल्म इंडस्ट्री का हिस्सा रहे. उन्होंने फिल्म बॉबी से बतौर लीड एक्टर अपने करियर की शुरू की थी। अपने अभी तक के करियर में उन्होंने कई रूप अपनाए और लगभग हर रोल में कमाल का काम करके दिखाया।

 

ऋषि कपूर का जन्म 4 सितंबर 1952 को हुआ था। अपने पिता राज कपूर की फिल्म 'मेरा नाम जोकर' से ऋषि कपूर उर्फ चिंटू ने बाल कलाकार के रूप फिल्मी सफर की शुरुआत की थी। 1973 में उन्हें पहला ब्रेक फिल्म 'बॉबी' से मिला, जिसके बाद वे फैंस के दिल और दिमाग पर छा गए। पहली बार ऋषि कपूर श्री 420 के गाने प्यार हुआ इकरार हुआ में नजर आए थे. इस गाने में राज और नरगिस के पीछे बारिश में चलने वाले तीन बच्चों में से एक ऋषि कपूर थे।

 

इसके बाद ऋषि कपूर को फिल्म मेरा नाम जोकर में राज कपूर के किरदार के यंग वर्जन को निभाते देखा गया था। 1970 में आई फिल्म मेरा नाम जोकर में पिता राज कपूर ने उन्हें अपने बचपन का रोल दिया था। ऋषि कपूर ने अपने करियर में बॉबी, प्रेम रोग, कभी कभी, लैला मजनू, फना और 102 नॉट आउट संग कई फिल्मों में काम किया। अपनी जिंदादिली के मशहूर ऋषि कपूर को हर दौर के सिनेप्रेमियों ने पसंद किया है।

 

 

करियर का आगाज

ऋषि कपूर फिल्म 'श्री 420' के हिट गाने 'प्यार हुआ, इकरार हुआ' में पहली दफा फिल्मी पर्दे पर नजर आए थे। अभिनेत्री नरगिस ने उन्हें इस गाने में नजर आने के लिए चॉकलेट्स देकर मनाया था। 1955 में आई इस फिल्म के समय ऋषि की उम्र महज 3 साल थी।

 

बेस्ट एक्टर का एवार्ड

साल 1973 में ऋषि कपूर को फिल्म बॉबी में पहला लीड रोल मिला। इस फिल्म में उनके साथ डिंपल कपाड़िया थीं। फिल्म सुपरहिट साबित हुई। इसी फिल्म के लिए ऋषि को बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। ऋषि कपूर ने साल 1973 से 2000 के दौरान 51 फिल्मों में सोलो हीरो के रूप में काम किया। मगर इसमें से सिर्फ 11 ही हिट साबित हुईं। इसमें बॉबी, लैला मजनू, प्रेम, रोग, नगीना, आपके दीवाने, रफू-चक्कर, सरगम, कर्ज, बोल राधा बोल, चांदनी जैसी फिल्में शामिल हैं।

 

उन्होंने 41 मल्टीस्टारर फिल्मों में काम किया, जिसमें से 25 हिट रहीं। इसमें खेल खेल में, कभी कभी, हम किसी से कम नहीं, बदलते रिश्ते, सागर, अजूबा, दामिनी, गुरु, दरार और कारोबार शामिल रहीं। ऋषि ने 1999 में फिल्म 'आ अब लौट चलें' का निर्देशन भी किया, जिसमें राजेश खन्ना, ऐश्वर्या राय और अक्षय खन्ना नजर आए थे।

 

साल 2000 के बाद ऋषि कपूर सहायक एक्टर की भूमिका में नजर आना शुरू कर दिया। वे 'हम तुम', 'फना', 'नमस्ते लंदन', 'अग्निपथ' जैसे सुपर हिट फिल्मों में भी नजर आए। उन्होंने 'डोन्ड स्टॉप ड्रीमिंग और साम्बर साल्सा' जैसी ब्रिटिश फिल्मों में भी काम किया था। ऋषि कपूर ने कई फिल्मों में नेगेटिव रोल भी किया है। 'अग्निपथ' में रौफ लाल का किरदार काफी सराहनीय था। उन्होंने कॉमेडी में भी हाथ आजमाया।

 

फिल्म 'हाउसफुल 2' में रणधीर कपूर के साथ उनकी जुगलबंदी ने काफी अच्छी रही। वह यश चोपड़ा का अंतिम फिल्म 'जब तक है जान' में भी नजर आए। उनकी हालिया फिल्मों को काफी पसंद किया गया था। वे 'कपूर एंड संस', '102 नॉट आउट' और 'द बॉडी' जैसी फिल्मों में नजर आए। सभी फिल्मों का प्रदर्शन काफी अच्छा रहा. '102 नॉट आउट' में 27 साल के बाद अमिताभ बच्चन के साथ फिल्मी पर्दे पर नजर आए।

 

अवॉर्ड और पुरस्कार की बात करें तो ऋषि कपूर को पहले ही फिल्म 'बॉबी' के लिए फिल्मफेयर का बेस्ट एक्टर अवॉर्ड मिला। साल 2008 में फिल्मफेयर ने उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड दिया। 2009 में रूस सरकार ने भी सिनेमा में योगदान के लिए उन्हें सम्मानित किया। ऋषि कपूर कई फिल्मों के लिए बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर या कॉमेडी एक्टर का अवॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं।

 

 

फिल्मी परिवार में जन्म ऋषि का पूरा परिवार फिल्म इंडस्ट्री से ताल्लुक रखता है। दादा पृथ्वी राज कपूर और पिता राज कपूर किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं। भाई रणधीर कपूर और राजीव कपूर भी फिल्मी पर्दे पर नजर आ चुके हैं। बेटा रणबीर कपूर फिल्म इंडस्ट्री का बड़े नाम हैं। ऋषि कूपर ने 22 जनवरी 1980 को एक्ट्रेस नीतू सिंह से शादी की थी। दोनों 15 फिल्मों में साथ नजर आए। ऋषि कपूर के दो बच्चे हैं- रणबीर और रिद्धिमा। ऋषि कपूर ने अपनी आत्मकथा- 'खुल्लम खुला: ऋषि कपूर अन्सेंसर्ड' भी लिखी, जो जनवरी 2017 में रिलीज हुई थी जो काफी चर्चा में रही।

 

साल 2018 में ऋषि कपूर को कैंसर हो गया था। वे इलाज के लिए न्यूयॉर्क गए थे। वे सितंबर 2019 में ही ठीक होकर लौटे थे। ऋषि कपूर ट्विटर पर काफी सक्रिय थे। इस वजह से कई विवादों में भी रहे

 

ऋषि-अमिताभ की दोस्ती

ऋषि कपूर और अमिताभ बच्चन की दोस्ती जगजाहिर है। उनके ऑनस्क्रीन और ऑफस्क्रीन बॉन्ड को लोग काफी पसंद करते थे। ऋषि और अमिताभ ने कई फिल्मों में साथ काम किया। दोनों की साथ में की गई आखिरी फिल्म 102 नॉटआउट थी। मूवी में ऋषि कपूर अमिताभ बच्चन के बेटे बने थे।

 

दोनों ने 1970 के दौर में साथ काम करना शुरू किया था। उन्होंने साथ में कई हिट फिल्में दी थीं। ऋषि-अमिताभ ने अमर अकबर एंथनी, कुली, नसीब, कभी कभी, अजूबा जैसी फिल्मों में साथ काम किया था। कपूर और बच्चन फैमिली के बीच हमेशा से अच्छे रिश्ते रहे हैं। साल 2002 में अभिषेक और करिश्मा की सगाई टूट गई थी। लेकिन इस रिश्ते के टूटने की वजह से ऋषि और अमिताभ की दोस्ती में कोई तनाव नहीं हुआ था।

 

अपनी ऑटोबायोग्राफी में ऋषि ने कबूल किया था कि अमर अकबर एंथनी में काम करने से पहले उनके और अमिताभ के बीच बातचीत नहीं होती थी। उनके बीच थोड़ा तनाव था। लेकिन उन्होंने कभी बैठकर इसे सुलझाने की भी कोशिश नहीं की थी। साथ में फिल्म अमर अकबर एंथनी करने के बाद उनमें तगड़ी दोस्ती हो गई थी। दोनों कई मौकों पर एक दूसरे के काम की तारीफ कर चुके हैं।

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

आख़िर क्यों आ रहे हैं जबरिया जोड़ी के निर्देशक को धमकी भरे कॉल


आख़िर क्यों आ रहे हैं जबरिया जोड़ी के निर्देशक को धमकी भरे कॉल

सिद्धार्थ मल्होत्रा और परिणीति चोपड़ा इन दिनों फ़िल्म के प्रचार में व्यस्त हैं और हाल ही में अपनी आगामी फिल्म जबरिया जोड़ी के प्रचार के लिए दोनों दिल्ली पहुंचे थे। फिल्म अब अपनी रिलीज से महज चंद दिनों की दूरी पर है लेकिन फ़िल्म के रीयलिस्टिक विषय के कारण, निर्देशक प्रशांत सिंह को देश के असली बाहुबलियों से धमकी भरे कॉल मिल रहे हैं!

प्रशांत सिंह उसी क्षेत्र से तालुख रखते हैं, इसलिए वे उन शक्तिशाली लोगों के बारे में बहुत कुछ जानते हैं जो दूल्हे का अपहरण करने के व्यवसाय में हैं। प्रशांत ने फ़िल्म के लिए स्वयं सिद्धार्थ मल्होत्रा के स्टाइल को डिज़ाइन किया है, उनकी ड्रेसिंग स्टाइल से ले कर बोली तक हर चीज़ पर खुद प्रशांत ने बारीकी से काम किया है। फिल्म के अधिकांश दृश्य असली बाहुबलियों से प्रेरित हैं। लेकिन, धमकियों के बावजूद, निर्माता इसे बाहुबलियों के क्षेत्र में रिलीज़ करने के लिए निर्धारित हैं। jabariya jodi promotion director

सिद्धार्थ मल्होत्रा-परिणीति चोपड़ा अभिनीत आगामी फिल्म “जबरिया जोड़ी” अपनी रिलीज से पहले काफी सुर्खियां बटोर रही है। यह फ़िल्म ‘पकड़वा विवाह’ के विषय पर आधारित है।

“जबरिया जोड़ी” बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों से वास्तविक जीवन के दंपतियों और असल जिंदगी में दूल्हे के अपहरणकर्ताओं पर आधारित है। विषय को सबसे संवेदनशील और मजेदार तरीके से फ़िल्म में पिरोया गया है, लेकिन यह क्षेत्रों के बाहुबलियों को रास नहीं आ रही है। इन बाहुबलियों ने प्रशांत सिंह को फोन कर के फिल्म का प्रचार न करने की सलाह दी है और साथ ही इसकी रिलीज़ पर आपत्ति जताई है। jabariya jodi promotion director

ट्रेलर लॉन्च के तुरंत बाद से, प्रशांत को यह धमकी भरा कॉल आ रहे है। अनजान लोग लगातार उन्हें फोन कर रहे हैं, उन्हें फिल्म का प्रचार न करने और इसे रिलीज न करने के लिए भी कह रहे हैं। ये सभी बाहुबली फ़िल्म से असुरक्षित महसूस कर रहे हैं और दुनियां के सामने एक्सपोज़ होने से डर रहे हैं।

शोभा कपूर, एकता कपूर और शैलेश आर सिंह द्वारा निर्मित, जबरिया जोड़ी बालाजी टेलीफिल्म्स तथा कर्मा मीडिया एंड एंटरटेनमेंट प्रोडक्शन के तहत बनाई गई है जो 2 अगस्त 2019 में रिलीज होने के लिए तैयार है। ja

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

रानी की “हिचकी” ने जीता अवार्ड


रानी की “हिचकी” ने जीता अवार्ड

फिल्म अभिनेत्री रानी मुखर्जी की फिल्म ‘हिचकी’ वर्ष 2018 की शुरुआत में ही रिलीज हुई थी. इस फिल्म में रानी मुखर्जी की एक्टिंग और फिल्म की कहानी ने बॉक्स ऑफिस पर देश की जनता का दिल जीत लिया था. अब इसी फिल्म के नाम एक और उपलब्द्धि लगी है. दरअसल, इटली के गिफोनी फिल्म फेस्टिवल के 49वें संस्करण में ‘हिचकी’ को सर्वश्रेष्ठ फिल्म के लिए ग्रिफॉन पुरस्कार से नवाजा गया.

इस पर फिल्म के निर्माता मनीष शर्मा ने कहा कि ‘हिचकी’ वास्तव में एक यूनिवर्सल फिल्म है जिसे विश्व भर के लोगों ने समझा है. बच्चों ने ‘हिचकी’ को महोत्सव के सर्वश्रेष्ठ फिल्म के रूप में वोट दिया, यह इस तथ्य को दर्शाता है कि फिल्म की कहानी बाधाओं को पार करने की है.

गौरतलब है कि, फिल्म फेस्टिवल में एलीमेंट्स प्लस 10 के नाम से एक खास सेगमेंट है जिसमें ज्यूरी के सदस्यों की आयु 10-12 के बीच में है. एलीमेंट्स प्लस 10 की श्रेणी में 1,500 से अधिक बच्चों ने चीन, जर्मनी, स्वीडेन, ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड्स के सात फीचर फिल्मों के लिए मतदान किया और इसमें ‘हिचकी’ को जीत हासिल हुई. यश राज फिल्म के इस प्रोजेक्ट ने अभी तक दुनियाभर में 250 करोड़ रुपये की कमाई कर ली है .

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×