Event Showcases High-Value Afghan Products for Indian Buyers


Event Showcases High-Value Afghan Products for Indian Buyers

New Delhi, India – The U.S. Agency for International Development, in cooperation with the governments of India and Afghanistan, announced the third annual Passage to Prosperity: India – Afghanistan International Trade and Investment Show from September 24 – 26, 2019 at the J.W. Marriott Hotel – New Delhi Aerocity. Attendance is limited to buyers and sellers on September 24, but the event will be open to the public on September 25 and 26.

 

The trade show will bring together Afghan exporters and Indian buyers for an annual exhibition of Afghanistan’s finest products, such as handwoven carpets, embroidery, gems and jewelry, as well as fruits, nuts, and spices. USAID expects approximately 100 Afghan businesses, including those owned by women, and more than 1,000 representatives of the Indian private sector to attend the event, which showcases the vibrant private sector market linkages between India and Afghanistan.

 

Agriculture dominates the Afghan economy and Afghanistan’s fresh and dried fruits, nuts, and spices will be prominently featured.  Afghan apricots, pomegranates, grapes, and raisins have long been a staple of Indian hospitality.  The development of a new cold storage facility at Hamid Karzai International Airport along with an air corridor linking the two countries has spurred even greater interest among Indian buyers for Afghanistan’s fruits and juices.

 

As Rajesh Naidu, a buyer from the Spar supermarket chain, noted, "India has a huge consumption base, and the new trend is toward health-consciousness.  If we can provide our customers with all-natural fruit juices without preservatives, I think the sky's the limit for our company and Afghan businesses."

 

The exhibition will include matchmaking events for buyers and sellers to exchange information, network, and negotiate deals.  More than 1,000 Indian private sector representatives attended the 2018 Passage to Prosperity India-Afghanistan International Trade and Investment Show; it was held in Mumbai and yielded more than $71 million in signed contracts.

 

पढ़ें : IIFA Awards 2019 में बॉलीवुड सितारों ने जमाया रंग, जानिए किस-किस को मिला अवार्ड

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

शेयर बाजार में भारी गिरावट से कारोबारी मायूस


शेयर बाजार में भारी गिरावट से कारोबारी मायूस

शेयर बाजार में भारी गिरावट से मायूस हुए देश भर में छोटे, मझले और बड़े कारोबारी. आज भारतीय शेयर बाजार में काफी कमजोरी देखी गई. शुरुआती कारोबार के दौरान सेंसेक्स 90 अंक से टूटा और निफ्टी भी सपाट खुलने के बाद फिसल गया. 

 

\"\"

आज सुबह 9.39 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र से 68.36 अंकों यानी 0.18 फीसदी की कमजोरी के साथ 37,259.65 पर कारोबार कर रहा जबकि निफ्टी 34.20 अंक यानी 0.31 फीसदी फिसलकर 10,982.80 पर कारोबार कर रहा था. 

 

इसके साथ BSE के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले मामूली कमजोरी के साथ 37,298.73 पर खुला और 37,346.05 तक उछला. मगर, सुस्त कारोबारी रुझान के कारण सेंसेक्स करीब 90 अंक पिसलकर 37,237.47 पर आ गया.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

देश भर में 1 वर्ष में बंद किए गए 5500 ATM और 600 ब्रांच : RBI


देश भर में 1 वर्ष में बंद किए गए 5500 ATM और 600 ब्रांच : RBI

देश में मौजूद सरकारी बैंक बड़े-बड़े शहरों में अपने ATM और ब्रांच को बंद कर रहें हैं. इसकी वजह यह बताई जा रही है कि शहर में रहने वाले लोग इंटरनेट बैंकिंग पर बहुत ज्यादा जोर दे रहें शिफ्ट हो गए हैं, जिसकी वजह से सरकारी बैंकों का ऐसा मानना है कि ब्रांच और ATM जैसे फिजिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को कम किया जा सकता है. बता दें कि, पिछले 1 वर्ष में देश के 10 सरकारी बैंक ने कुल मिलाकर 5,500 ATM और 600 ब्रांच बंद किए हैं.

 

P चिदंबरम CBI की हिरासत में, जानिए आज क्या होगी चिदंबरम से पूछ ताछ

 

बताया जा रहा है कि, देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने जून 2018 से 2019 के बीच 420 ब्रांच और 768 ATM बंद किए हैं. वहीं विजया और देना बैंक को मिलाने के बाद बैंक ऑफ बड़ौदा ने कुल40 ब्रांच और 274 ATM पर इस बीच शटर गिराया है. इस लिस्ट में पंजाब नैशनल बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया,  केनरा बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक और इलाहाबाद बैंक भी शामिल हैं.

 

गौरतलब है कि, जहां एक तरफ सरकारी बैंक खर्च घटाने के लिए नेटवर्क में कटौती कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ प्राइवेट सेक्टर के एक्सिस बैंक, HDFC बैंक और ICICI बैंक ने अपने बैंकिंग नेटवर्क का विस्तार किया है. RBI के आंकड़ों से पता चलता है कि इन बैंकों ने खासतौर पर शहरी क्षेत्रों में अपने ATM लगाए हैं.

 

मंद बुद्धि बच्चों का मेमोरी पॉवर बढ़ने एवं बैक पैन, जॉइंट पैन, के चमत्कारी उपाय।

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×