स्वामित्व बदलने के बावजूद बनी रहेगी Air India की पहचान- अश्विनी लोहानी


स्वामित्व बदलने के बावजूद बनी रहेगी Air India की पहचान- अश्विनी लोहानी

इस समय देश की अर्थव्यवस्था डमाडोल चल रही है दूसरी तरफ वित मंत्री सीतारमण ने दावा किया है कि अर्थव्यवस्था के सातों इंडीकेटर और आंकड़ों से पता चलता है कि भारतीय अर्थव्यवस्था स्थिर है और इसमें ग्रोथ के संकेत दिखने लगे हैं. लोकसभा में विपक्ष को जवाब देते हुए वित्तमंत्री ने कहा कि अर्थव्यवस्था मुश्किल में नहीं है.

 

मौजूदा वित्त वर्ष में एफडीआई, एफपीआई और जीएसटी कलेक्शन में तेजी से अर्थव्यवस्था में सुधार के संकेत मिल रहे हैं. इसपर एयर इंडिया के प्रमुख अश्विनी लोहानी ने कहा है कि स्वामित्व में बदलाव के बाद भी एयरलाइन की अलग पहचान बनी रहेगी. लोहानी ने यहां यानी मुंबई में 5 दिन की प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद मीडिया से कहा कि एयरलाइन की अब भी शानदार संगठन है.

 

 

भावुक लोहानी ने एयर इंडिया के मौजूदा निजीकरण की प्रक्रिया की ओर इशारा करते हुए कहा, ‘‘मैं रेलवे से इसमें आया हूं. इन लोगों ने कंपनी में बरसों काम किया है. प्रदर्शनी देखकर मैं भावुक हो गया. मैं अंदाजा लगा सकता हूं कि इन लोगों को कैसा लग रहा होगा.’’ भारी घाटे में पहुंच चुकी एयर इंडिया की शुरुआत दिवंगत जे आर डी टाटा ने की थी.

 

साथ ही भावुक लोहानी ने कहा कि एयरलाइन की ऐसी विरासत है जिसकी तुलना नहीं हो सकती. एयरलाइन के स्वामित्व में बदलाव के बाद भी एयरलाइन की यह विरासत कायम रहेगी. आगे उन्होंने कहा, ‘‘संगठन के रूप में एयर इंडिया अब भी काफी मजबूत और शानदार हैं. तमाम प्रतिकूल परिस्थितियों के बावजूद हम दक्षता से परिचालन कर रहे हैं. जब भी देश को जरूरत महसूस हुई एयर इंडिया मौजूद रही. यह सिर्फ एयर इंडिया थी जो चीन के वुहान में कोरोनावायरस के बीच फंसे भारतीयों को वापस लेकर आई.’’ 

 

 

यह पूछे जाने पर कि ऐसे समय जबकि एयर इंडिया के निजीकरण की बात हो रही है, इस तरह की प्रदर्शनी के आयोजन की क्या वजह है. इस पर लोहानी ने कहा, ‘‘इसका प्रदर्शनी से लेना देना नहीं है. सोसायटी की सचिव मीरा दास ने इस विचार के साथ हमसे संपर्क किया. हमने उनको समर्थन देने का फैसला किया.’’

 

सरकार ने एयर इंडिया में अपनी शत प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का फैसला किया है. सरकार भारी घाटे में चल रही एयर इंडिया से बाहर निकलना चाहती है. इसके विनिवेश के लिये सरकार ने रुचि पत्र आमंत्रित किया है, खैर देखते है आगे क्या-क्या होता. 

 

Air India Ashwani Lohani Airlines एयर इंडिया अश्विनी लोहानी air india ownership air india news air india news hindi air india ashwani lohani business news hindi hindi business news

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

शेयर बाजार में भारी गिरावट से कारोबारी मायूस


शेयर बाजार में भारी गिरावट से कारोबारी मायूस

शेयर बाजार में भारी गिरावट से मायूस हुए देश भर में छोटे, मझले और बड़े कारोबारी. आज भारतीय शेयर बाजार में काफी कमजोरी देखी गई. शुरुआती कारोबार के दौरान सेंसेक्स 90 अंक से टूटा और निफ्टी भी सपाट खुलने के बाद फिसल गया. 

 

\"\"

आज सुबह 9.39 बजे सेंसेक्स पिछले सत्र से 68.36 अंकों यानी 0.18 फीसदी की कमजोरी के साथ 37,259.65 पर कारोबार कर रहा जबकि निफ्टी 34.20 अंक यानी 0.31 फीसदी फिसलकर 10,982.80 पर कारोबार कर रहा था. 

 

इसके साथ BSE के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले मामूली कमजोरी के साथ 37,298.73 पर खुला और 37,346.05 तक उछला. मगर, सुस्त कारोबारी रुझान के कारण सेंसेक्स करीब 90 अंक पिसलकर 37,237.47 पर आ गया.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

देश भर में 1 वर्ष में बंद किए गए 5500 ATM और 600 ब्रांच : RBI


देश भर में 1 वर्ष में बंद किए गए 5500 ATM और 600 ब्रांच : RBI

देश में मौजूद सरकारी बैंक बड़े-बड़े शहरों में अपने ATM और ब्रांच को बंद कर रहें हैं. इसकी वजह यह बताई जा रही है कि शहर में रहने वाले लोग इंटरनेट बैंकिंग पर बहुत ज्यादा जोर दे रहें शिफ्ट हो गए हैं, जिसकी वजह से सरकारी बैंकों का ऐसा मानना है कि ब्रांच और ATM जैसे फिजिकल इंफ्रास्ट्रक्चर को कम किया जा सकता है. बता दें कि, पिछले 1 वर्ष में देश के 10 सरकारी बैंक ने कुल मिलाकर 5,500 ATM और 600 ब्रांच बंद किए हैं.

 

P चिदंबरम CBI की हिरासत में, जानिए आज क्या होगी चिदंबरम से पूछ ताछ

 

बताया जा रहा है कि, देश के सबसे बड़े बैंक SBI ने जून 2018 से 2019 के बीच 420 ब्रांच और 768 ATM बंद किए हैं. वहीं विजया और देना बैंक को मिलाने के बाद बैंक ऑफ बड़ौदा ने कुल40 ब्रांच और 274 ATM पर इस बीच शटर गिराया है. इस लिस्ट में पंजाब नैशनल बैंक, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया,  केनरा बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक और इलाहाबाद बैंक भी शामिल हैं.

 

गौरतलब है कि, जहां एक तरफ सरकारी बैंक खर्च घटाने के लिए नेटवर्क में कटौती कर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ प्राइवेट सेक्टर के एक्सिस बैंक, HDFC बैंक और ICICI बैंक ने अपने बैंकिंग नेटवर्क का विस्तार किया है. RBI के आंकड़ों से पता चलता है कि इन बैंकों ने खासतौर पर शहरी क्षेत्रों में अपने ATM लगाए हैं.

 

मंद बुद्धि बच्चों का मेमोरी पॉवर बढ़ने एवं बैक पैन, जॉइंट पैन, के चमत्कारी उपाय।

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×