दिवाली के बाद दिल्ली में साँस लेना हुआ दूभर, 10 गुना तक जहरीली हुई दिल्ली की हवा


दिवाली के बाद दिल्ली में साँस लेना हुआ दूभर, 10 गुना तक जहरीली हुई दिल्ली की हवा

राजधानी दिल्ली में दिवाली पूजा के बाद से ही प्रदूषण का स्तर काफी बढ़ गया है, जिसके चलते लोगों की मुश्कीलें काफी बढ़ गई है. आस पास के इलाकों में पराली का जलना तथा तमाम प्रतिबंधों के बाद भी फोड़े गए पटाखों की वजह से दिल्ली की वायु इस हद तक जहरीली हो गयी है की खुले में सांस लेना तक दूभर हो गया है. आसमान में नजर दौड़ाने पर सिर्फ सफेद रंग चादर ही नजर आ रही है.

 

बता दें कि राजधानी दिल्ली में बुधवार की सुबह पीएम 2.5 का स्तर 500 (गंभीर) और पीएम 10 का स्तर 379 (बहुत खराब) स्थिति में रहा. इसके बाद स्थिति 'आपातकाल गंभीर' में पहुंच जाती है. दिल्ली में मंगलवार को AQI 400 तक दर्ज किया गया था. जहां गाजियाबाद की हवा में सबसे ज्यादा प्रदूषण दर्ज किया गया. इसके अलावा आज सुबह 8बजे दिल्ली के आरकेपुरम में पीएम 2.5-192 और पीएम-10-167 दर्ज किया गया. दिल्ली के आसपास की स्थिति और भी बुरी है. तो नोए़डा में PM 2.5-312 और PM 10-276 रहा.

 

Breaking News : दिवाली के बाद पहली बार पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भारी कमी

 

 

वहीं गाजियाबाद में पीएम 2.5 का स्तर 381 और पीएम 10-339 तक जा पहुंचा. इस लिहाज से दिल्ली से भी ज्यादा नोएडा और गाजियाबाद वायुप्रदूषण से प्रभावित हैं. मौसम विभाग के अनुसार हवा का बहाव बहुत कम होने की वजह से यह प्रदूषण दिल्ली और आसपास के इलाकों में रुक गया है. तो वही दूसरी तरफ मौसम विभाग ने बताया कि अगले दो दिनों तक राहत के आसार नहीं हैं.

 

आपको बता दें कि 0-50 तक का AQI 'अच्छा' माना जाता है. 51-100 तक 'संतोषजनक', 101-200 'मध्यम', 201-300 'खराब'. 301-400 'बहुत खराब' और इससे ऊपर गंभीर श्रेणी में आता है. इसपर दिल्ली आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता दिलीप पांडेय ने मंगलवार को प्रेसवार्ता कर कहा कि पड़ोसी राज्य पंजाब और हरियाणा में इस साल पराली जलाने के मामलों में वृद्धि हुई है. इसकी वजह से दिल्ली में प्रदूषण तेजी के साथ बढ़ रहा है.

 

वहीं इस समस्या के समाधान को लेकर केंद्र व पड़ोसी राज्य की सरकारों द्वारा कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है और सभी शांत बैठे हैं. वहीं, दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल का कहना है कि दिल्लीवासियों की ओर से मेरी पंजाब, हरियाणा की सरकारों से हाथ जोड़ कर अपील है कि तुरंत कुछ ठोस कदम उठाएं व दिल्ली को गैस चेंबर बनने से बचाएं. प्रदूषण नियंत्रण का हमारा प्रयास जारी रहेगा.

-मुस्तकीम अंसारी

 

Hindi Samachar : दिमाग को कंप्यूटर जैसे तेज बनाता है एक मुठी अंकुरित चना

 

Hindi News, हिंदी न्यूज़, Latest News in Hindi, Latest Hindi News, Hindi News Headlines, हिन्दी ख़बर, Breaking News in Hindi, Breaking Hindi News, Hindi Newspaper, headlines in hindi, news headlines in hindi, Taja Samachar, Hindi Samachar

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

इस मंत्री ने गलती से ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, हुए ट्रोल


इस मंत्री ने गलती से ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, हुए ट्रोल

आज सुबह से सोशल मीडिया पर एक खबर को काफी तेजी से वायरल किया जा रहा है. दरअसल, कर्नाटक में BS येदियुरप्पा के नेतृत्व वाली BJP सरकार के मंत्रियों ने बीते मंगलवार को पद और गोपनीयता की शपथ ली. इस दौरान जब BJP नेता और विधायक मधु स्वामी पद और गोपनीयता की शपथ ले रहे थे, तभी उन्होंने गलती से बतौर मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली. 

 

 

बता दें कि, मधु स्वामी जब शपथ ले रहे थे तो उन्हें मंत्री बोलना था, लेकिन जुबान फिसलने के चलते वह मुख्यमंत्री बोल पड़े. अब इस खबर को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया जा रहा है. खास बात ये है कि इस दौरान CM येदियुरप्पा भी मौके पर मौजूद थे और मधु स्वामी की इस गलती पर मुस्कुरा दिए. इतना ही नहीं येदियुरप्पा ने मधु स्वामी को बाद में गले भी लगाया.

 

गौरतलब है कि, बीते मंगलवार को हुए शपथ ग्रहण समारोह में राज्यपाल वजुभाई वाला ने 17 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलायी. जिन विधायकों को मंत्री पद से नवाजा गया है, उनमें बी. श्रीरमुलु, सीटी रवि, पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केएस ईश्वरप्पा और पूर्व सीएम जगदीश शेट्टार का नाम शामिल है. बता दें कि, येदियुरप्पा के 26 जुलाई को CM बनने के बाद उनके मंत्रिमंडल का यह पहला विस्तार है. उन्होंने 29 जुलाई को विधानसभा में अपनी सरकार का बहुमत साबित किया था. 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

22 वर्ष पहले दफ़न हुए व्यक्ति का नहीं गला शरीर, मिला ज्यों का त्यों


22 वर्ष पहले दफ़न हुए व्यक्ति का नहीं गला शरीर, मिला ज्यों का त्यों

उतर-प्रदेश के बांदा जिले से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, कई लोग इसे देखकर खुदा का करिश्मा मान रहें हैं तो वहीं कई लोग नेक इंसाल का दर्जा दे रहें हैं. बताया जा रहा है कि, यहां 22 वर्ष पहले कब्र मे दफनाए गए एक शख्स का जनाजा ज्यों का त्यों पड़ा मिला है.

 

ये मामला तब सामने आया जब मूसलाधार बारिश के चलते कब्रिस्तान में मिट्टी कटने से एक कब्र धंस गई और उसमें  22 वर्ष पहले दफन एक शख्स का कफन में लिपटा जनाजा़ दिखने लगा. यहां देखते ही देखते मौके पर काफी लोगों पहुंच गए. जब कफन में लिपटी लाश को निकाला गया तो वहां मौजूद सैकड़ों लोग देखकर दंग रह गए. क्योंकि 22 सालों बाद भी लाश ज्यों कि त्यों निकली.

 

फ़िल्म 'द जोया फैक्टर' और अभिनेत्री सोनम कपूर से जुड़ी रोचक बात

 

दरअसल, ये मामला उतर-प्रदेश के जिले बांदा के बबेरू कस्बे के अतर्रा रोड स्थित घसिला तालाब के कब्रिस्तान की है. यहां मूसलाधार बारिश से कई कब्रों की मिट्टी बह गई और एक कब्र में दफन जनाजा़ बाहर दिखने लगा. इसके बाद लोगों ने कब्रिस्तान कमेटी को इसकी जानकारी दी. कब्रिस्तान कमेटी के सदस्‍यों द्वारा जब कब्र की धंसी हुई मिट्टी को हटाकर देखा गया, तो उसमें दफनाया गया जनाजा ज्यों का त्यों पड़ा मिला.

 

गौरतलब है कि, इस कब्र में 22 वर्ष पहले 55 वर्षीय पेशे से नाई नसीर अहमद नाम के शख्स को दफनाया गया था. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, नसीर अहमद पुत्र अलाउद्दीन निवासी कोर्रही, थाना बिसंडा बबेरू में नाई की दुकान थी. उन्‍हें लगभग 22 वर्ष पहले दफन किया गया था. जबकी दूसरी तरफ मृतक नसीर के एक रिश्तेदार बताते हैं कि उनका कोई बेटा नहीं था. 

 

22 वर्ष पहले उनका निधन हुआ था, जिसके बाद उनलोगों ने ही उनके शव को दफनाया था. लेकिन, आज उनका जनाजा मिटटी धंसने की वजह से बाहर निकल आया. न शव ख़राब हुई थी और न ही कफ़न पर कोई दाग लगा था. हालंकी, बाद में स्थानीय मौलानाओं की मौजूदगी में शव को कल देर रात उसे दूसरी कब्र में दोबारा से दफन किया गया.

 

पुराने से पुराने पिंपल्स और झाइयां के दाग को जड़ से मिटाने का नुश्खा

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×