अब गैस्ट्रिक की टेबलेट पर लिखना होगा इसे खाने से किडनी पर पड़ेगा असर : CDSCO


अब गैस्ट्रिक की टेबलेट पर लिखना होगा इसे खाने से किडनी पर पड़ेगा असर : CDSCO

हमारे बीच अभी भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो मामूली सी सिर दर्द होने पर या पेट में गैस होने पर बेगर डॉक्टर से प्रमिशन लिए दुकोनों से लेकर टेबलेट खाना शुरु कर देतें हैं. क्या आप जानते है यह हमारे लिए कितना डैंजर है. दरअसल, गैस्ट्रिक के इलाज में ली जाने दवा पैंटाप्राजोल, ओमिप्राजोल, लैंसाप्राजोल, इसोमेप्राजोल, रेबिप्राजोल सहित कई दवाओं के इस्तेमाल से किडनी पर असर का खतरा रहता है.

 

इसको ध्यान में रखते हुए केंद्रीय मानक नियंत्रण संगठन ने सभी राज्यों के ड्रग्स कंट्रोलर को पत्र लिखा है. आपको बता दें कि इस पत्र में कहा गया है कि यह दवा बनाने वाली कंपनियां दवा के रैपर पर यह जरूर लिखें कि इसके प्रयोग से किडनी पर असर पड़ सकता है. दवाओं से मरीजों पर होने वाले दुष्परिणाम पर कार्य करने वाली वैज्ञानिक संस्था आईपीसी ने यह सलाह दी है.

 

गौरतलब है कि बुखार, शरीर और जोड़ों में छोटे-मोटे दर्द के लिए डॉक्टर की सलाह के बिना दवा लेना आम चलन बन गया है. बिना परामर्श की दवा लेने के कारण किडनी खराब होने के मामलों में अधिकांश ऐसी दवाएं हैं जिन को खाने से डॉक्टरों ने मना कर दिया है. आइब्यूप्रोफेन, कीटोप्रूफेन, डाइक्लोफेनाक सोडियम, नीमुस्लाइड आदि ऐसे कई दवाएं हैं जिनकी वजह से किडनी खराब हो रही हैं.

 

Breaking News : वायु प्रदूषण से बचने के लिए अपने खान-पान में करे बदलाव, मिलेगा काफी लाभ

 

CDSCO Hindi News, हिंदी न्यूज़, CDSCO Latest News in Hindi, Latest Hindi News, Hindi News Headlines, हिन्दी ख़बर, CDSCO Breaking News in Hindi, Breaking Hindi News, Hindi Newspaper, headlines in hindi, news headlines in hindi, Taja Samachar, Hindi Samachar, Gastric Problem, Kidney stone

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×
×

Subscibe Our Newsletter

created by CodexWorld