भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुख्यालय पर किया प्रचंड प्रदर्शन


भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस मुख्यालय पर किया प्रचंड प्रदर्शन

नई दिल्ली-

 राफेल सौदे के विषय में लगाये गये निराधार आरोप से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छवि को धूमिल करने के विरोध में आज भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी के मुख्यालय पर प्रचण्ड रोष प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के अपमान से देश का हर नागरिक व भाजपा का प्रत्येक कार्यकर्ता आहत हुआ है। आज हजारों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता विज्ञान भवन पर एकत्रित होकर राहुल गांधी ने क्या किया, देश को शर्मसार किया, होश में आओ, होश में आओ, राहुल गांधी होश में आओ जैसे नारे लगा रहे थे। इस प्रदर्शन में राज्यसभा सांसद विजय गोयल, दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता, सांसद प्रवेश साहिब सिंह, राष्ट्रीय मंत्री सरदार आर पी सिंह, प्रदेश संगठन महामंत्री सिद्धार्थन, महामंत्री रविन्द्र गुप्ता, राजेश भाटिया सहित प्रदेश पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष, मण्डल अध्यक्ष व सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता सम्मिलित हुए।

पत्रकारों से बातचीत करते हुये दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि माननीय सर्वोच्च न्यायलय ने महत्वपूर्ण फैसला सुनाते हुए राफेल मामले में अपने फैसले के खिलाफ दायर सभी याचिकाओं को निराधार बताकर खारिज कर दिया। न्यायालय ने इसके साथ ही उस विवाद को भी खारिज कर दिया कि 58,000 करोड़ रुपये के सौदे के संबंध में एक प्राथमिकी दर्ज करने की आवश्यकता थी। कोर्ट ने इसके साथ ही कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को उनकी विवादित टिप्पणी के लिए नसीहत देते हुए कहा है उन्हें आगे के लिए ऐसी टिप्पणियों के लिए सावधान रहना चाहिए। कोर्ट की इन टिप्पणियों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि किस प्रकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की छवि को धूमिल करने का षड़यन्त्र कांग्रेस पार्टी द्वारा रचा गया है। आज इस रोष प्रदर्शन में एकत्रित सभी लोगों के मन में क्रोध है कि कैसे गैर-जिम्मेदाराना बयान देकर बार-बार कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बदनाम करने की कोशिश की है और मोदी जी का अपमान देश के हर नागरिक का अपमान है जिसे लेकर कांग्रेस को देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

 

पूर्व केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने कहा कि कांग्रेस ने लगातार देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का अपमान किया है जो हर नागरिक को अपमानित करने का काम किया है। राहुल गांधी को अपने भाषणों व वक्तव्यों पर विचार करना चाहिए क्योंकि उनके द्वारा बोली गई हर बात पाकिस्तान के अखबारों व चैनलों पर बड़े विस्तार से दिखायी जाती हैं। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी का चरित्र व संस्कार एक जैसा है। राहुल गांधी और मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने एक बार नहीं अनेकों बार मोदी जी के लिए आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया है जिसके लिये राहुल गांधी को देश से और केजरीवाल को दिल्ली की जनता से माफी मांगनी चाहिए। प्रधानमंत्री देश की जनता के लिए खुशियां बांट रहे हैं, शौचालय बनवा रहे हैं, मुफ्त गैस कनेक्शन दे रहे हैं, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को सीधे बैंक प्रणाली से जोड़ रहे हैं, देशहित के लिए ऐतिहासिक निर्णय ले रहे हैं ऐसे प्रधानमंत्री का अपमान स्पष्ट रूप से देश के हर नागरिक का अपमान है।

 

नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 130 करोड़ देशवासियों के प्यार व आशीर्वाद के कवच में सुरक्षित हैं और कांग्रेस के बयानों से उन्हीं की पार्टी की मर्यादा घटी है। दिन प्रतिदिन जनता के बीच अपनी विश्वसनीयता को खोता देख व भ्रष्टाचार के इतिहास में लिप्त कांग्रेस अपनी बौखलाहट निकालने का कोई मौका नहीं छोड़ती हैं। बौखलाहट ऐसी है कि वो संवैधानिक पद की मर्यादा को भी दरकिनार कर निराधार बयानों से भाजपा व उसके शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ बोलती है। ज्ञान की कमी और राजनीतिक अपरिपक्वता राहुल गांधी के बयानों में साफ नजर आती है। नकारात्मक विचारों के कारण ही कांग्रेस आज अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है। 

कार्यक्रम संयोजक राजेश भाटिया ने कहा कि मोदी जी जोड़ने की राजनीति करते हैं, लेकिन कांग्रेस ने हमेशा तोड़ने की राजनीति करते हुये मतदाताओं का तुष्टिकरण व ध्रुवीकरण किया है। कांग्रेस का जनाधार समाप्त होने की स्थिति में है, लेकिन आज भी कांग्रेस के नेता आत्ममंथन करने की बजाय जनता पर ही इसका दोषारोपण करते हैं।  

bjp,congress headquarters, workers demontrated by bjp, 24 akbar road,Hindi News, हिंदी न्यूज़, Latest News in Hindi, Latest Hindi News, Hindi News Headlines, हिन्दी ख़बर, Breaking News in Hindi, Breaking Hindi News, Hindi Newspaper, headlines in hindi, news headlines in hindi, Taja Samachar, Hindi Samachar, khabar din bhar

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

मुंबई से दिल्ली का सफ़र सिर्फ 10 घंटो में होगा पूरा


मुंबई से दिल्ली का सफ़र सिर्फ 10 घंटो में होगा पूरा

दिल्ली से मुंबई के बीच काफी तेज़ चलने वाली राजधानी एक्सप्रेस में सफर जल्द ही और छोटा होने वाला है। रेलवे अपने इन्फ्रास्ट्रक्चर को अब और बेहतर कर रहा है। delhi mumbai train

आपको बता दें, रेलवे ने 2023 तक इसके ट्रैवल टाइम को 5 घंटे 45 मिनट कम करने की योजना शुरू कर दी है। फिलहाल, इस सफर में 15 घंटे 45 मिनट लगते हैं। इन्फ्रास्ट्रक्चर के लचर होने के कारण यह ट्रेन अपनी क्षमता के मुताबिक स्पीड नहीं पकड़ पा रही थी।

घर से छिपकली भगाने के घरेलू उपाय।

हालांकि रेलवे ने 2016-17 में बजट मिशन रफ्तार के नाम से रेलवे के इन्फ्रास्ट्रक्चर को बदलने का प्लान भी किया था, लेकिन मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में इस पर ध्यान दिया जा रहा है। बताया जा रहा है कि रूट की क्षमता 20 प्रतिशत तक बढ़ाई जा सकती है। लेकिन हर दिन यह सेक्टर 100 पैसेंजर और 80 गुड्स ट्रेनें हैंडल करता है। delhi mumbai train

बता दें, राजधानी एक्सप्रेस रेक जर्मनी की सुपीरियर लिंक हॉफमन बश टेक्नॉलजी से बने होते हैं और यह 160 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ सकते है लेकिन इसको सपॉर्ट करने वाला इन्फ्रास्ट्रक्चर बेहतर नहीं है। जिस कारण यह 87 किमी प्रति घंटा की स्पीड से चलते है।

रेलवे के एक विश्लेषण से पता लगा है कि कुल 60,000 किमी के नेटवर्क में से सिर्फ 0.3 प्रतिशत 160 प्रति घंटा की रफ्तार को झेल सकता है, जबकि 5 प्रतिशत 130 किमी प्रति घंटा की रफ्तार का भार उठा सकता है।

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

Facebook से आधार लिंक करना जरूरी है क्या?


Facebook से आधार लिंक करना जरूरी है क्या?

अब नहीं चलेगी सोशल मीडिया पर फेक न्यूज क्योंकी अगर आपके फेसबुक अकाउंट से फेक न्यूज फैलती है तो इसका जवाब आपको खुद देना होगा. इसके अलावा फेसबुक को आधार से जोड़ना पड़ सकता है. इसका प्रयोग फेसबुक अकाउंट वेरिफिकेशन के लिए किया जाएगा.

आपको बतादें कि, इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में एक PIL दायर की गई थी जिसपर कोर्ट ने कहा कि वर्तमान में यह मामला मद्रास, बॉम्बे और मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में लंबित है. दूसरी तरफ मीडिया का कहना है कि, सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केंद्र सरकार, गूगल, ट्विटर, यूट्यूब सहित अन्य को नोटिस जारी किया है. facebook aadhar link

इन्हें 13 सितंबर तक इस मामले में जवाब देने के लिए कहा गया है. बता दें कि, तमिलनाडु सरकार ने पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि फेक न्यूज, अश्लील कंटेट, राष्ट्रविरोधी कंटेट पर लगाम कसने के लिए जरूरी है. फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को आधार से लिंक किया जाए. ऐसा करने से आरोपियों की पहचान आसानी से हो पाएगी. facebook aadhar link

हालांकि, इसके विरोध में फेसबुक ने कोर्ट से कहा कि ऐसा करने से यूजर्स की प्राइवेसी को खतरा पहुंच सकता है. फेसबुक के लिए भारत एक बहुत बड़ा बाजार है.

और पढ़ें »

खास आपके लिए

Senior Citizen Tiffin Seva

Viral अड्डा

  • news
  • news
  • news
  • news
-

वायरल न्यूज़

×