आज है भुवनेश्वरी जयंती, जानिए पूजा-उपासना की विधि


आज है भुवनेश्वरी जयंती, जानिए पूजा-उपासना की विधि

हिन्दू धर्म के अनुसार भाद्रपद माह की शुक्ल पक्ष की द्वादशी को भुवनेश्वरी जयंती मनाई जाती है। तदनुसार इस वर्ष 10 सितंबर 2019 को भुवनेश्वरी जयंती मनाई जाएगी। माँ भुवनेश्वरी भगवान शिव लीला की सहभागी है। इनका स्वरूप कांतिमय एवं सौम्य है। माँ भुवनेश्वरी की साधना से धन, वैभव, शक्ति एवम विद्या प्राप्त होती है। 

 

देवी भुवनेश्वरी स्वरुप

 

माँ भुवनेश्वरी इस सृष्टि के ऐश्वर्य रूप की स्वामिनी है। माँ भुवनेश्वरी की चेतना में अनुभति का आनंद है। माँ के एकल स्वरूप में एक मुख, चार भुजा तथा चारों भुजा में गदा-शक्ति एवम दंड-व्यवस्था का प्रतीक है। माँ का वर्ण श्याम तथा गौर वर्ण है, इनके नख में ब्रह्माण्ड का दर्शन होता है। माँ सूर्य देव के समान लाल वर्ण युक्त दिव्य प्रकाश धारण किए हुई है।

 

माँ भुवनेश्वरी मंत्र

 

माँ भुवनेश्वरी का जाप मंत्र “ऐं हृं श्रीं ऐं हृं” के उच्चारण से करना चाहिए। इस मन्त्र जाप के उच्चारण से साधक को समस्त सुखों एवं सिद्धियों की प्राप्ति होती है।

 

पूरी कथा पढ़ें: भुवनेश्वरी जयंती महत्व

 

और पढ़ें »

खास आपके लिए

-
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×