आज है अजा एकादशी व्रत, जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास


आज है अजा एकादशी व्रत, जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

हिन्दू धर्म में एकादशी व्रत का विशेष महत्व है। एकादशी व्रत प्रत्येक माह के दोनों पक्षों में मनाई जाती है। भाद्रपद माह में कृष्ण पक्ष की एकादशी को अजा एकादशी कहा जाता है। तदनुसार 26 अगस्त 2019 को अजा एकादशी मनाई जाएगी। एकादशी व्रत के करने से मनुष्य के सभी पापों का नाश होता है। 

 

इसे भी पढ़ें: बालों का झड़ना और डैंड्रफ के घरेलु उपाय

 

अजा एकादशी की कथा सतयुग के महान सत्यवादी व्यक्ति राजा हरिश्चंद्र से जुडी हुई है। राजा हरिश्चंद्र अत्यंत वीर प्रतापी एवम सत्यवादी राजा थे। राजा अपनी सत्यता एवम वचन बद्धता हेतु पत्नी एवम पुत्र को बेच देते है तथा स्वंय भी चांडाल का सेवक बन जाता है।

 

एक दिन जब राजा हरिश्चंद्र श्मशान में अर्धरात्रि के समय पहरा दे रहे थे उस समय एक अबला औरत अपने पुत्र के शवदाह के लिए आती है। राजा उससे शवदाह के लिए “कर” देने को कहते है। किन्तु अबला औरत के पास धन नही होता है इस कारण वह “कर” अदा नही कर पाती है। 

 

पूरी कथा पढ़ें: जानिए व्रत की कथा एवं इतिहास

और पढ़ें »

खास आपके लिए

-
-

रेसिपी

वायरल न्यूज़

×